शामली।।(दीपक कुमार) एक तरफ तो योगी सरकार महिलाओं के सम्मान के लिए कानून बना रही है, और महिला सुरक्षा के लाख दावे कर रही है वहीं एक बार फिर जनपद शामली के कांधला थाना में महिला उत्पीड़न का मामला सामने आया है। जनपद शामली के कांधला थाना क्षेत्र के गांव नाला में विवाहिता ने घेरलू झगडे में अपने देवरों व जेठ के ऊपर जानलेवा हमला करने की तहरीर देकर कार्यवाही की मांग की है। आरोप है कि घायल महिला थाने में तड़पती रही और बेहोश पड़ी रही और पुलिस तमाशबीन बनी रही। आरोप है कि घंटों बाद ही पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की बाद में घायल महिला को तड़पता देख पुलिस ने कार्रवाई शुरू की। दरअसल आपको बता दें जनपद शामली के कांधला थाना क्षेत्र के गांव नाला निवासी आमना पत्नी बिलाल ने थाने में तहरीर देते हुए बताया कि वह शनिवार की सुबह अपने घर पर कार्य कर रही थी। इसी बीच उसके देवर सरफराज से उसका विवाद हो गया। विवाद के बाद उसके देवर सरफराज व उसकी पत्नी नौशिदा, जेठ साजिद व उसकी पत्नी साजिदा व नसीम ने उसके ऊपर लाठी डंडों से हमला कर दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गई। इस बीच आमना के जीजा ने उक्त लोगों के बीच बचाव कराने की कोशिश की तो सरफराज ने उसके जीजा के सिर में डन्डा मार दिया। जिससे उसका सिर फट गया। पीडिता ने थाने पहुंचकर डाक्टरी परीक्षण कराने के बाद दो महिलाओं सहित पांच लोगों के खिलाफ तहरीर देकर कार्यवाही की मांग की है। आरोप है कि पुलिस ने तहरीर लेने के बाद भी महिला की तहरीर पर कोई कार्रवाई नहीं शुरू की जब महिला घंटों थाने में तड़पती रहे और बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ी तब जाकर पुलिस ने अपनी खानापूर्ति शुरू की, महिला ने चेतावनी दी है कि अगर पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो वह भी आत्महत्या कर लेगी जिसका जिम्मेदार प्रशासन होगा।