Home Delhi भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जय पांडा ने आशा जन रसोई का उद्घाटन किया

भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जय पांडा ने आशा जन रसोई का उद्घाटन किया

239
0

असल न्यूज़: एक ऐतिहासिक कदम बढ़ाते हुए पूर्वी दिल्ली सांसद गौतम गंभीर ने मंगलवार को पूर्वी दिल्ली के मयूर विहार जिले में दूसरी एक आशा जन रसोई की शुरुआत की इस मौके पर रसोई का उद्धघाटन करने के लिए उनके साथ भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जय पांडा मौजूद रहे साथ ही दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता भी मौजूद रहे

यह रसोई दिल्ली की अपनी तरह की दूसरी जन रसोई है जहाँ की जरूरतमंद लोगो को केवल एक रूपए मे पौष्टिक खाना मिलेगा। पहली जन रसोई भी सांसद गौतम गंभीर द्वारा ही पूर्वी दिल्ली के गांधी नगर में 24 दिसंबर 2020 को खोली गयी थी जहाँ प्रतिदिन एक हजार लोग पौष्टिक भोजन केवल एक रूपए में प्राप्त कर पा रहे हैं और अब तक लगभग 50 हजार लोग खाना खा चुके हैं. सांसद गौतम गंभीर द्वारा यह कदम प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी जी के विज़न कोई भूखा ना सोये पर आधारित उनकी मुहिम को आगे बढ़ा रहा हैं. यह रसोई मयूर विहार के न्यू अशोक नगर में शुरू हुई है यहाँ भी रोजाना लगभग एक हजार जरूतमंद लोग केवल एक रूपए में पौष्टिक खाने की थाली से अपना पेट भर सकेंगे।

दो महीने के अंदर दूसरी जन रसोई शुरू करने पर गम्भीर ने कहा यह केवल एक रसोई नहीं बल्कि एक मुहीम है जरुरतमंदो के पेट भरने की मुहीम मेरे पास करोडो रूपए अपना प्रचार करने के लिए नहीं है और ना ही मैं वो कर सकता हूँ लेकिन मेरे पास साफ़ नियत है जिससे मैं दिल्ली की जनता के लिए काम कर रहा हूँ और करता रहूंगा। हमारी पहली जन रसोई का काफी अच्छा रिस्पांस रहा रोजाना हम लोग गाँधी नगर जन रसोई के माध्यम से एक हजार लोगों को खाना खिला पा रहे हैं इसी मुहीम को आगे बढ़ाते हुए अब हमने ये दूसरी रसोई शुरू की है और यहाँ भी हमारा मसकद 1 हजार जरूरतमंद लोगो तक पौष्टिक खाना पहुँचाना है. और हमारा लक्ष्य आने वाले समय में 4-5 और जन रसोइयां शुरू करना का है गौरतलब है की गंभीर ने पिछले साल सितम्बर में भी पोषण अभियान को आगे बढ़ाते हुए महीनो तक पूर्वी दिल्ली के विभिन्न इलाकों में फ़ूड वन चलवाई थी जो की जगह जगह घूम कर बच्चो और सभी जरुरतमंदो को पौष्टिक खाना प्रदान करती थी.

खाने जैसी मूल चीज से कोई वंचित नहीं रहना चाहिए और जब मैं किसी ऐसे व्यक्ति को देखता हूँ जो की खाने से वंचित रह जाता है तो मेरा मन विचलित हो जाता है और जिस देश और देश की जनता ने मुझे इतना प्यार दिया सम्मान दिया मैं वहां किसी को भी भूखा कैसे देख सकता हूँ और अगर मैं अपनी दिल्ली की जनता के लिए इतना भी ना कर पाया तो ये मेरे लिए बहोत ही शर्म की बात होगी इस मौके पर बोलते हुए जय पांडा ने कहा यह एक ऐतिहासिक अवसर है क्योंकि इस तरह की चीज़ दिल्ली में पहली बार हो रही है हमने अन्य राज्य सरकार को अनुदानित कैंटीन खोलते देखा है लेकिन दिल्ली में ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है। मैं अपने सांसद को ऐसा करने के लिए बधाई देता हूं। आदेश गुप्ता ने कहा यह भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच का अंतर है

वे चांद का वादा करते हैं और कुछ भी नहीं देते जबकि हमारे सांसद अथक प्रयास कर रहे हैं दिल्ली को सर्वश्रेष्ठ बनाने का। लोगों को एहसास हो रहा है कि AAP और CM केजरीवाल विज्ञापनों और बैनरों के माध्यम से उन्हें बेवकूफ बना रहे हैं। गांधी नगर की रसोई में भोजन करने वाले लोगों ने भी गंभीर की इस पहल के बारे में अपने विचारों को साझा किय एक रिक्शा चालक बाबू ने कहा मैं रोज़ दोपहर को यहाँ आता हूँ। महिलाएँ,बच्चे, बूढ़े सभी यहाँ खाना खाते हैं। दिल्ली में कहीं भी 1 रूपए में आपको ऐसा भोजन नहीं मिल सकता है। मीणा गांधी नगर के एक गोदाम में काम करने वाली एक महिला ने कहा वे सभी के साथ एक जैसा व्यवहार करते हैं
50 लोगों को एक बार में अनुमति दी जाती है ताकि हम दूरी बनाए रख सकें। रोज हमें अलग अलग भोजन मिलता है और खाना हमेशा गर्म होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here