Home Gadgets Oxygen Concentrators: कहां से खरीदें हवा से ऑक्‍सीजन बनाने वाली कॉन्‍सेंट्रेटर मशीन,...

Oxygen Concentrators: कहां से खरीदें हवा से ऑक्‍सीजन बनाने वाली कॉन्‍सेंट्रेटर मशीन, कितनी है कीमत?

362
0

असल न्यूज़: How to Buy Oxygen Concentrator Machine: ऑक्सीजन कॉन्‍सेंट्रेटर उन जगहों पर ज्यादा इस्तेमाल किए जाते हैं, जहां लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की सुविधा न हो. जैसे, बहुत सारे छोटे अस्पतालों या नर्सिंग होम में.

देशभर में कोरोना की दूसरी लहर के बीच दिल्ली समेत अन्‍य राज्यों के अस्पतालों में ऑक्सीजन संकट (Oxygen Crisis in India) चल रहा है. ऑक्सीजन सप्‍लाई के लिए हर स्‍तर से प्रयास हो रहे हैं. अस्‍पतालों में कम पड़ती ऑक्‍सीजन के बीच मरीजों के परिजन अपने स्‍तर से भी ऑक्‍सीजन सिलेंडर की व्‍यवस्‍था करते दिख रहे हैं. लेकिन ये कबतक संभव है कि खुद ही ऑक्‍सीजन सिलेंडर लेकर उसे भरवाने के लिए दर-दर भटका जाए. ऐसे में हल्‍के और मध्‍यम लक्षण वाले कोरोना मरीजों के लिए ऑक्‍सीजन कॉन्‍सेंट्रेटर (Oxygen Concentrators) बेहतर विकल्‍प है.

यह एक ऐसी मशीन है, जिसमें ऑक्‍सीजन भरवाने की जरूरत नहीं पड़ती, बल्कि यह मशीन खुद ही ऑक्‍सीजन जेनरेट करती है. यह सामान्‍य हवा से नाइट्रोजन को अलग कर oxygen की अधिकता वाला गैस तैयार करती है. मशीन में लगे पाइप से यह सांस की तकलीफ वाले मरीजों तक पहुंचता है और उसे आराम हो जाता है. यह दिखने में एक पोर्टेबल ट्रॉली की तरह हो सकता है या एक कंप्यूटर के आकार का या फिर छोटे से वाटर प्यूरीफायर की तरह दिख सकता है. कंपनियां इसे अलग-अलग मॉडल में तैयार करती हैं.

अचानक demand increased तो बाजार में मिलना हुआ मुश्किल!
ऑक्सीजन कॉन्‍सेंट्रेटर उन जगहों पर ज्यादा इस्तेमाल किए जाते हैं, जहां लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की सुविधा न हो. जैसे, बहुत सारे छोटे अस्पतालों या नर्सिंग होम में. कोरोना के मामलों में यह होम isolation वाले मरीजों के लिए बहुत मददगार है. कोरोना लहर में ऑक्सीजन संकट गहराने से कॉन्‍सेंट्रेटर की मांग अचानक तेज हो गई और ऐसे में बाजार में इसकी उपलब्धता खत्म होती जा रही है. बता दें कि देश में बीपीएल और फिलिप्स इसकी बड़ी manufacturer companies हैं. जबकि अन्‍य कंपनियों के कॉन्‍सेंट्रेटर भी भारतीय बाजार में उपलब्‍ध हैं. हालांकि फिलहाल अधिकतर जगह ये आउट ऑफ स्‍टॉक चल रहे हैं.

कहां से खरीदें, कितनी पड़ती है कीमत?
अस्‍पतालों में बेड की कमी के बीच डॉक्‍टर भी होम आइसोलेशन की सलाह दे रहे हैं. सर गंगाराम अस्‍पताल के डॉ वेद चतुर्वेदी का कहना है कि हल्‍के और मध्‍यम लक्षण वाले मरीज घर में ही isolationमें रह सकते हैं. डॉक्‍टर की सलाह पर दवा लेते रहें. ऑक्‍सीजन सैचुरेशन जांचने के लिए ऑक्‍सीमीटर रखें. और 94 से नीचे जाने पर oxygen concentrator यूज कर सकते हैं.

यह आपको किसी अच्‍छे medical equipment की दुकान पर मिल सकता है. या नहीं तो आप इसे online भी मंगवा सकते हैं. अमेजॉन, फ्लिपकार्ट जैसी कई ई-कॉमर्स साइट्स पर यह उपलब्‍ध हो सकता है. इसकी कीमत की बात करें तो एक अच्‍छा कॉन्‍सेंट्रेटर आपको 30 से 60 हजार रुपये तक की रेंज में मिल सकता है.

Oxygen Concentrators: कहां से खरीदें हवा से ऑक्‍सीजन बनाने वाली  कॉन्‍सेंट्रेटर मशीन, कितनी है कीमत? | Looking to buy oxygen concentrators  Check out the best machines in India oxygen ...

ये कुछेक मॉडल हैं चलन में

  1. फिलिप्स एवरफ्लो ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर (Philips Everflo Oxygen Concentrator): 50,000 रुपये की कीमत वाले इस मशीन का वजन करीब 14 किलो है. 93-96 फीसदी शुद्धता के साथ इसमें 5 लीटर तक एयरफ्लो देने की क्षमता है. इसका रखरखाव आसान है.
  2. बीपीएल ऑक्‍सी 5 नियो (BPL OXY 5 NEO Oxygen Concentrator): 93 फीसदी शुद्धता के साथ 5 लीटर तक एयरफ्लो वाले इस मशीन की कीमत भारत में करीब 50,000 रुपये है.
  3. डेडकज डी ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर (Dedakj De Oxygen Concentrator: इस सीरीज के कॉन्‍सेंट्रेटर की कीमत 45 से 60 हजार रुपये के बीच पड़ती है. 9 फीसदी शुद्धता के साथ इसमें 6-8 लीटर तक एयरफ्लो देने की क्षमता है.
  4. Nidek Nuvo 10 ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर: इसकी कीमत करीब एक लाख रुपये पड़ती है. 30 किलो वजनी यह ऑक्‍सीजन कॉन्‍सेंट्रेटर 95 फीसदी शुद्धता के साथ 10 लीटर तक एयरफ्लो देता है.

इन बड़े मॉडल्‍स के अलावा कई सारी कंपनियां अब इसे बहुत छोटे साइज में भी तैयार करने लगी हैं. ऐसी मशीनें 10 हजार से कम कीमत पर भी online उपलब्‍ध हो जाया करती हैं. हालांकि डॉक्‍टर और एक्‍सपर्ट्स बताते हैं कि इसका इस्‍तेमाल मेडिकल सुपरविजन में किया जाना ज्‍यादा श्रेयस्‍कर होता है.

क्‍या मेडिकल ऑक्‍सीजन जितनी प्योरिटी होती है?
लिक्विड मेडिकल ऑक्‍सीजन की तुलना में यह मशीन थोड़ा कम शुद्ध ऑक्‍सीजन देती है. लिक्विड मेडिकल ऑक्‍सीजन जहां 99 फीसदी तक प्‍योर होते हैं, वहीं कॉन्‍सेंट्रेटर 93 से 95 फीसदी तक शुद्ध ऑक्‍सीजन देता है. हालांकि एक्सपर्ट्स के मुताबिक, हल्के और मध्यम लक्षणों वाले वैसे कोरोना मरीजों के लिए यह काफी है, जिन मरीजों में ऑक्‍सीजन सैचुरेशन लेवल 85 फीसदी या ज्यादा हो.

85 से लेवल नीचे जाने पर लिक्विड मेडिकल ऑक्‍सीजन की ही सलाह दी जाती है. एक्सपर्ट्स बताते हैं कि ऑक्‍सीजन कॉन्‍सेंट्रेटर को ICU का विकल्प नहीं माना जा सकता. दो ट्यूब वाले कॉन्‍सेंट्रेटर एक ही घर में, एक समय में 2 मरीजों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है, लेकिन एक्सपर्ट कोरोना के मामलों में क्रॉस–इंफेक्‍शन का खतरा बताते हैं और ऐसा न करने की सलाह देते हैं.

बाजार में कबतक आसानी से मिलने लगेगी मशीन?
जैसा कि आप जान चुके हैं कि देश में बीपीएल और फिलिप्स इसकी बड़ी मैन्यूफैक्चरर कंपनियां हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, BPL मेडिकल टेक्नोलॉजीज के सीईओ सुनील खुराना ने कहा है कि अचानक बढ़ी मांग के लिए इंडस्ट्री तैयार नहीं थी. उनका कहना है कि तैयार यूनिट्स के आयात के लिए ऑर्डर दे दिए हैं और अमेरिका से इसके कंपोनेंट्स के आने का इंतजार भी कर रहे हैं. आते ही इसका प्रॉडक्शन शुरू करेंगे.

वहीं, फिलिप्स इंडियन सबकॉन्टिनेंट के एमडी डेनियल मेजोन का कहना है कि कंपनी ने ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर का ग्लोबल प्रॉडक्शन बढ़ा दिया है. हम भारत में इसे उपलब्ध कराने की दिशा में काम कर रहे है. ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि 10 से 15 दिनों में भारतीय बाजार में बड़े पैमाने पर यह मशीन उपलब्ध हो जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here