Home Delhi दिल्ली में पहली बार 24 घंटे में 400 से अधिक मरीजों की...

दिल्ली में पहली बार 24 घंटे में 400 से अधिक मरीजों की मौत

183
0

असल न्यूज़: देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना से फिलहाल राहत मिलती नहीं दिखाई दे रही है। लगातार 25 हजार से अधिक मामले सामने आ रहे हैं। शनिवार को भी 25,219 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। जितने तेजी से मामले बढ़ रहे हैं उसके अनुपात में अस्पतालों में इलाज की सुविधाएं नहीं बढ़ रही है। इस वजह से मौतें भी बढ़ती जा रही हैं। स्थिति यह है कि पिछले 24 घंटे में 412 मरीजों की मौत हुई है, जो अब तक सर्वाधिक है। एक दिन पहले 375 मरीजों की मौत हुई थी। इस बीच थोड़ी राहत की बात यह है कि पिछले 24 घंटे में 27,421 मरीज ठीक हुए हैं। नए मामलों की तुलना में ठीक होने वाले मरीजों की संख्या अधिक होने से सक्रिय मरीजों की संख्या कुछ कम हुई है।स्वास्थ्य विभाग के अनुसार दिल्ली में अब तक कुल 11 लाख 74 हजार 552 मामले आ चुके हैं। जिसमें से 10 लाख 61 हजार 246 मरीज ठीक हो चुके हैं। इस वजह से मरीजों के ठीक होने की दर एक बार फिर 90.35 हो गई है। वहीं मृतकों की संख्या बढ़कर 16,559 पहुंच गई है। कोरोना से अब तक कुल मृत्यु दर 1.41 फीसद है। वहीं सक्रिय मरीजों की संख्या 99,361 से घटकर 96,747 हो गई है।

अस्पतालों में महज 1295 बेड खाली

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार कोरोना के इलाज के लिए अस्पतालों में कुल 21,227 बेड की व्यवस्था है। मौजूदा समय में 19,932 मरीज भर्ती हैं व 1295 बेड खाली है। फिर भी मरीजों को अस्पतालों में दाखिला नहीं मिल पा रहा है। मरीज अस्पतालों में बेड नहीं मिलने से दर-दर भटकने को मजबूर हैं। कोविड केयर सेंटर भी मरीजों के लिए खास मददगार साबित नहीं हो रहे हैं। यही वजह है कि कोविड केयर सेंटर में उपलब्ध 5525 बेड में से 4600 बेड खाली हैं। क्योंकि वहां आक्सीजन की सुविधा नहीं है। कोरोना के हल्के संक्रमण से पीडि़त पुरानी बीमारियों वाले मरीजों और बुजुर्गो को कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया जा रहा है। मौजूदा समय में कोविड केयर सेंटर में 925 मरीज व कोविड हेल्थ सेंटर में 117 मरीज भर्ती हैं।

संक्रमण दर 31.61 फीसद

दिल्ली में अब तक कुल एक करोड़ 72 लाख 31 हजार 565 सैंपल की जांच हुई है। जिसमें से 79,780 सैंपल की जांच पिछले 24 घंटे में हुई। जिसमें से 31.61 फीसद सैंपल पाजिटिव पाए गए। एक दिन पहले संक्रमण दर 12.69 फीसद थी। इस लिहाजा से संक्रमण दर में एक फीसद की कमी हुई है। वहीं कंटेनमेंट जोन बढ़कर 39,556 हो गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here