Home Madhya Pradesh कोरोना ने तबाह किया परिवार, 18 दिन में पांच लोगों की मौत,...

कोरोना ने तबाह किया परिवार, 18 दिन में पांच लोगों की मौत, परिवार में बचे हैं बुजुर्ग दादा और चार मासूम बच्चे

165
0

असल न्यूज़: एमपी के देवास जिले में एक ही परिवार पर कोरोना कहर बनकर टूटा है। 18 दिन के अंदर परिवार पूरी तरह से उजड़ गया है। कोरोना से बीते 18 दिनों में परिवार के चार सदस्यों की मौत हो गई। वहीं, घर की एक बहू सदमे में फांसी लगा ली है। उसके बाद परिवार में सिर्फ एक बुजुर्ग और मासूम बच्चे बचे हैं। रविवार को परिवार की बड़ी बहू का निधन हो गया है।

दरअसल, देवास के मैनाश्री नगर में रहने वाले बालकिशन गर्ग के परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया है। वह अग्रवाल समाज देवास के अध्यक्ष हैं। सबसे पहले उनकी पत्नी चंद्रकला देवी का निधन कोरोना से हुआ था। 19 अप्रैल को बड़े बेटे संजय गर्ग का कोरोना से निधन हो गया। उसके बाद 20 अप्रैल को छोटे बेटे स्वपनेश गर्ग का भी कोरोना से निधन हो गया। पत्नी और दो बेटों के निधन से बालकिशन गर्ग टूट गए। वहीं, परिवार में कोहराम मच गया।

छोटी बहू फांसी के फंदे पर झूल गई
परिवार पर आई आफत को घर की छोटी बहू रेखा गर्ग बर्दाश्त नहीं कर पाई। वह 21 अप्रैल को सदमे में अपनी जान दे दी। उसके बाद घर की स्थिति और खराब हो गई। परिवार में बुजुर्ग बालकिशन गर्ग और बड़ी बहू रितु बची थी। साथ में चार छोटे-छोटे बच्चे बचे हैं।

बड़ी बहू का भी निधन
इस दौरान बड़ी बहू रितु गर्ग भी कोरोना से संक्रमित हो गईं। संक्रमित होने के बाद इंदौर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। रविवार को तबीयत ज्यादा बिगड़ गई, उसके बाद उन्होंने अस्पताल में अंतिम सांस ली है। अब परिवार में सिर्फ बालकिशन गर्ग और दोनों बेटों के चार छोटे बच्चे ही बचे हैं। सभी महिला सदस्यों को कोरोना ने लील लिया है।

गौरतलब है कि रविवार को एमपी में कोरोना के 12662 मरीज मिले हैं। वहीं, 94 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। देवास में 114 मरीज मिले हैं। देवास में भी संक्रमण को रोकने के लिए कोरोना कर्फ्यू लागू है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here