Home Delhi Online Wedding: अनोखी शादी, वायरल हो रहा Video

Online Wedding: अनोखी शादी, वायरल हो रहा Video

867
0

असल न्यूज़: नोएडा (पारुल रांझा]। कोरोना महामारी के चलते कई लोगों को अपनी शादियां टालनी पड़ रही हैं, तो कई लोगों ने शादियों की तारीख आगे बढ़ा दी है। वहीं, स्मार्ट दौर में तकनीक के साथ दूल्हा-दुल्हन भी स्मार्ट हो गए हैं। वह ऑनलाइन तरीके से शादी कर रहें है। शनिवार शाम को ग्रेटर नोएडा 14 एवेन्यू गौड़ सिटी में भी इसी तरह की अनूठी ऑनलाइन शादी सम्पन्न हुई। उत्तर प्रदेश में मुरादाबाद निवासी मोहित चौहान और हिमाचल प्रदेश के मंडी की रहने वाली प्रतिभा ठाकुर ने शादी समारोहों के लिए तय प्रोटोकाल को निभाने का गजब उदाहरण पेश किया है। मोहित व प्रतिभा दोनों पेशे से सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। दोनों ने शनिवार को एक छत के नीचे शादी तो की, लेकिन वहां न तो दूल्हे व दूल्हन के परिजन मौजूद रहे और न कोई रिश्तेदार। दोनों के माता-पिता, बराती रिश्तेदारों ने वर्चुअल ही रस्में और सात फेरे देखे। गूगल मीट से जुड़कर सभी ने आनलाइन ही वर-वधू को आशीर्वाद भी दिया।

माता-पिता ने ऑनलाइन कराई रस्में

मोहित चौहान बताते हैं कि वे प्रतिभा को पिछले पांच वर्षों से जानते है। उनकी शादी की तिथि 30 अप्रैल को तय हुई थी। 50 रिश्तेदारों के साथ बरात हिमाचल जानी थी, लेकिन कोरोना के केस अचानक बढ़ने के कारण 10 लोगों का शादी में एकत्रित होना भी सही नहीं लगा। 28 अप्रैल को घर वालों के साथ विचार विमर्श करके वर्चुअल शादी करने का फैसला लिया।

Online Wedding In Noida: Parents saw virtual wedding and guests involved  online due to Coronavirus in Noida city of Uttar Pradesh

शनिवार शाम को तय मुहूर्त पर विधि-विधान के साथ शादी रचाई। सात फेरों तक का लाइव प्रसारण गूगल मीट के माध्यम से किया । मुरादाबाद में अपने घर से ही माता-पिता से लग्न की रस्में पूरी करवाई गईं। मंडी में भी दुल्हन की ओर से माता-पिता व रिश्तेदार मौजूद हुए। वर्चुअल शादी में सौ से ज्यादा रिश्तेदारों ने गूगल मीट के जरिये आशीर्वाद दिया।

रिश्तेदारों को कोरोना नियमों का पालन करने का संकल्प दिलाया

प्रतिभा बताती हैं कि मुरादाबाद से ही पंडित ने आनलाइन जुड़कर रस्में व मंत्र उच्चारण किया। लैपटॉप को वीडियो काल के जरिये कनेक्ट करके स्पीकर से जोड़ दिया गया और विधिवत रूप से मंत्र उच्चारण के साथ फेरे लिए। मोहित के पिता मंडल पाल ¨सह बताते हैं कि अपने बेटे की शादी को लेकर कई अरमान थे, लेकिन कोरोना ने उम्मीद पर पानी फेर दिया लेकिन जरूरी नहीं कि भीड़ इकट्ठी करके ही शादियां की जाएं, जब समाज पर आफत हो तो ऐसे समारोह को टालना ही बेहतर है। शादी के दौरान दूल्हा दुल्हन सहित अन्य स्वजन को कोरोना नियमों की पालन व हाथों को सैनिटाइज करने का भी संकल्प दिलाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here