Home Covid-19 भलस्वा डेरी थाना पुलिस पर फायरिंग करने वाले गिरोह के दो सदस्य...

भलस्वा डेरी थाना पुलिस पर फायरिंग करने वाले गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार, डकैती की वारदातों को देते थे अंजाम

344
0

अजय शर्मा। बाहरी उत्तरी जिले भलस्वा डेरी थाना पुलिस ने मुठभेड़ के बाद दो डकैती की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार यह गिरोह रात के समय गोदामों में डकैती की वारदात को अंजाम दिया करता है इसकी तलाश दिल्ली पुलिस को काफी लंबे समय से थी यह गिरोह इलाके में काफी सक्रिय है इतना ही नहीं है गिरोह ऑटो लिफ्टिंग की वारदातों को भी अंजाम दिया करता था।

बाहरी उत्तरी जिले के डीसीपी राजीव रंजन सिंह ने बताया की भलस्वा डेरी थाना पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी इलाके में डकैती की वारदातों को अंजाम देने वाला गिरोह डकैती की वारदात को अंजाम देने के लिए आने वाला है जिसके बाद मुखबिर खास की बताई गई जगह पर भलस्वा डेरी एसएचओ के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया जिसमें एसआई जितेंद्र सिंह हेड कांस्टेबल राजेंद्र कॉन्स्टेबल रविंदर कॉन्स्टेबल गौरव को शामिल किया गया उसके बाद मुखबिर खास की बताई गई जगह पर ट्रैप लगाकर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों को जैसी एक पुलिस की भनक लगी वह बाइक को वापस यूट्रन करके सड़क की तरफ भागने लगे इतना ही नहीं पुलिस टीम पर आरोपियों ने फायर भी कर दिया लेकिन मुस्तैद दिल्ली पुलिस की टीम ने आरोपियों का पीछा किया और उन्हें धर दबोचा।

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान प्रेम उर्फ संजय एसएसएन कॉलोनी भलस्वा डेरी के रूप में हुई है आरोपी के पास से एक पिस्टल चार जिंदा कारतूस वह खाली कॉल दिल्ली पुलिस ने बरामद किया है वही दूसरे आरोपी की पहचान पंकज स्वरूप नगर एक्सटेंशन भलस्वा डेरी के रूप में हुई है आरोपी पंकज के पास से एक देसी कट्टा एक जिंदा कारतूस दिल्ली पुलिस ने बरामद किए हैं साथ ही आरोपियों के पास से एक पल्सर मोटरसाइकिल भी बरामद की गई है जो रोहिणी सेक्टर 22 से चोरी की गई थी आरोपियों के खिलाफ आर्म्स एक्ट सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

भलस्वा डरी थाना पुलिस ने आरोपियों से जब गहनता से पूछताछ की तो प्रेम उर्फ संजय व पंकज ने बताया कि यह लोग पहले वाहनों की चोरी है फिर उन्हीं वाहनों को वारदात में इस्तेमाल करते हुए उनके पास से दो मोटरसाइकिल दो स्कूटी दिल्ली पुलिस ने बरामद किए छानबीन के दौरान पता चला कि प्रेम उर्फ संजय भलस्वा डेरी इलाके का घोषित बी सी है जो करीब 1 साल से फरार चल रहा था। आरोपी प्रेम और संजय के पास से एक टाटा एस टेंपो भी बरामद किया है आपको बता दें कि आरोपी टैंपू के अंदर ही सोता था और काफी लंबे समय से यह फोन का इस्तेमाल नहीं कर रहा था आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद करीब 25 मामलों का खुलासा हुआ है जो इन लोगों ने डकैती जैसी अन्य कई वारदातों को अंजाम दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here