Home Delhi प्यार में पागल हुई लड़की, खुद की मां की बनी हत्यारी

प्यार में पागल हुई लड़की, खुद की मां की बनी हत्यारी

118
0

दिल्ली के आंबेडकर नगर इलाके में वर्ष 2007 में भाजपा के टिकट से निगम पार्षद का चुनाव लड़ चुकी एक महिला की गला रेतकर बेरहमी से हत्या कर दी गई। हत्याकांड को किसी और ने नहीं बल्कि महिला की बेटी ने अपने लिवइन पार्टनर के दोस्त के साथ मिलकर अंजाम दिया। मृतका की शिनाख्त सुधा रानी (55) के रूप में हुई है। हत्याकांड की गुत्थी को सुलझाते हुए पुलिस ने बेटी देवयानी (24) और लिवइन पार्टनर के दोस्त कार्तिक (23) को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर वारदात में इस्तेमाल सर्जिकल ब्लेड व अन्य सामान भी बरामद कर लिया है।

दरअसल देवयानी अपने पति को छोड़कर अपने प्रेमी शिबू के साथ दक्षिणपुरी रह रही थी। मां को यह पसंद नहीं था। सुधा ने बेटी पर दबाव बनाने के लिए उसे प्रॉपर्टी से बेदखल करने की धमकी देकर खर्चा भी देना बंद कर दिया था। इससे नाराज होकर उसने वारदात को अंजाम दिया। वारदात के बाद लूटपाट के दौरान हुई हत्या का रंग देने का प्रयास किया गया।

दक्षिण जिले की पुलिस उपायुक्त ने बताया कि शनिवार रात करीब 10 बजे आंबेडकर नगर थाना पुलिस को एक मदनगीर के एक मकान में महिला की हत्या की सूचना मिली। सूचना के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। वहां घर पर एक कमरे के बेड पर सुधा रानी का शव पड़ा था। बेडशीट पर चोरों ओर खून ही खून फैला था। कमरे में कोई जोर जबदरस्ती के निशान भी नहीं थे। यहां तक खून के छींटे फर्श पर भी नहीं गिरे थे। पुलिस को घर पर महिला की बेटी देवयानी मिली।

देवयानी ने बताया कि करीब 9.30 बजे दो बदमाश उनके घर में घुसे। उन्होंने पहले घर में रखा कैश और जेवरात लूटे। मां ने लूटपाट का विरोध किया तो आरोपियों ने गला रेतकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने सुधा के शव का मुआयना किया तो उसके गले में सोने की चेन और शरीर पर बाकी जेवरात अपनी जगह मिले। देवयानी से पूछने पर वह बार-बार अपने बयान बदलने लगी। शक होने पर पुलिस ने उससे सख्ती से पूछताछ की। कुछ ही देर की पूछताछ के बाद देवयानी टूट गई। उसने मां की हत्या करने की बात कबूल कर ली।


यह बनी हत्या की वजह….
पुलिस की पूछताछ में देवयानी ने बताया कि उसके परिवार में मां के अलावा एक बड़ा भाई विक्रांत उर्फ काकू है जो महाराष्ट्र में परिवार के साथ रहता है। मां एरिया में अच्छी रसूखदार महिला थी। साढ़े पांच साल पूर्व देवयानी की शादी ग्रेटर नोएडा निवासी चेतन नामक युवक से हुई थी। पति से देवयानी को एक बेटा भी है। लेकिन उसने पति को छोड़कर अपने पुराने प्रेमी शिबू के साथ लिवइन में रहना शुरू कर दिया था। शिबू के खिलाफ कई अपराधिक मामले दर्ज हैं। सुधा को यह पसंद नहीं था। वह कहती थी कि देवयानी चेतन के साथ ही रहे। यह सोचकर उसने बेटी को प्रॉपर्टी से बेदखल करने के लिए कहना शुरू कर दिया था। सुधा देवयानी को खर्चा भी देती थी जो उसने देना बंद कर दिया था। मां से पीछा छुड़ाने के लिए उसने शिबू के दोस्त के साथ मिलकर षड्यंत्र रचकर मां की हत्या कर दी। शिबू का इस हत्याकांड में कोई हाथ है या नहीं पुलिस इसकी पड़ताल कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here