Home Crime भारतीय मुस्लिमों को वापस क्यों भेज रहा कुवैत ? फिर कभी नहीं...

भारतीय मुस्लिमों को वापस क्यों भेज रहा कुवैत ? फिर कभी नहीं देगा देश में एंट्री

104
0

असल न्यूज़: पैगंबर मोहम्मद पर भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा की कथित टिप्पणी से उपजा विवाद भारत समेत कई देशों में फैल गया है। कुवैत में पैगंबर पर टिप्पणी के विरोध में एक प्रदर्शन किया गया था। जिस पर वहां की सरकार ने सख्ती दिखाई है। कुवैत के फहील इलाके में कुछ भारतीय मुस्लिमों ने नूपुर शर्मा के बयान के विरोध में नारे लगाए, जिसके बाद कुवैत सरकार ने उन्हें अरेस्ट करने का निर्देश जारी किया है।

सूत्रों के अनुसार, प्रदर्शन करने वाले लोगों को कुवैत से डिपोर्ट किया जाएगा। क्योंकि उन्होंने देश के नियम कानून का उल्लंघन किया है। दरअसल, कुवैत के कानून के अनुसार, देश में प्रवासियों को धरना या प्रदर्शन में हिस्सा लेने या उसका आयोजन करने की अनुमति नहीं है। घटना का वीडियो सामने आने के बाद कुवैत सरकार के अधिकारी प्रवासियों को अरेस्ट करने की प्रक्रिया पूरी कर रहे हैं। कतर का निर्वासन केंद्र सभी प्रवासियों को डिपोर्ट करने की दिशा में काम कर रहा है। इसके साथ ही सभी प्रवासियों के कुवैत में दोबारा प्रवेश पर भी पाबन्दी लगा दी जाएगी।

सरकार का कहना है कि कुवैत में सभी प्रवासियों को कुवैत के कानूनों का पालन करना चाहिए और किसी भी तरह के प्रदर्शनों में हिस्सा नहीं लेना चाहिए। बता दें कि, भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा एक टीवी डिबेट के दौरान पैगंबर मोहम्मद पर कथित विवादित टिप्पणी की गई थी, जिसके बाद कुछ इस्लामी देशों से इसके खिलाफ प्रतिक्रिया देखने को मिली। कुवैत के विदेश मंत्रालय ने भारतीय राजदूत सिबी जॉर्ज को तलब करते हुए आधिकारिक विरोध पत्र सौंपा था। हालांकि, जब भाजपा ने नूपुर शर्मा को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित किया तो कुवैत ने इसकी तारीफ भी की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here