Home Delhi दिल्ली में महिलाएं भी अब कैब चलाने में बनेंगी एक्सपर्ट, ट्रांसपोर्ट विभाग...

दिल्ली में महिलाएं भी अब कैब चलाने में बनेंगी एक्सपर्ट, ट्रांसपोर्ट विभाग ने लॉन्च की है ये अहम स्कीम, जानिए- इसके बारे में सबकुछ

70
0

असल न्यूज़: देश की आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर दिल्ली सरकार के ट्रांसपोर्ट विभाग द्वारा महिला सशक्तिकरण से जुड़ी एक महत्वपूर्ण योजना को लॉन्च किया गया. दरअसल ट्रांसपोर्ट विभाग की इस नई योजना के तहत कैब चलाने की इच्छुक महिलाएं अब 23 दिन और 29 घंटे की ट्रेनिंग लेकर कैब ड्राइविंग में एक्सपर्ट बन सकेंगी. बता दें कि कैब ड्राइविंग की ट्रेनिंग पूरी हो जाने के बाद महिलाओं को लाइट मोटर व्हीकल चलाने का लाइसेंस तो मिलेगी ही साथ ही उनकी ट्रेनिंग पर निवेश करने वाली कंपनी द्वारा उन्हें अपने यहां नौकरी भी मुहैया कराई जाएगी.

महिलाओं को कैब चलाने की ट्रेनिंग पर कितना खर्चा आएगा
गौरतलब है कि महिलाओं को कैब चलाने की ट्रेनिंग पर तकरीबन 9 हजार रुपये का खर्च आएगा. जिसे परिवहन विभाग और ट्रेनिंग दिलवा रही कंपनी आधा-आधा वहन करेंगे.इस ट्रेनिंग प्रोग्राम की औपचारिक शुरुआत स्वतंत्रता दिवस के मौके पर माननीय उप राज्यपाल वी के सक्सेना द्वारा की गई. इस मौके पर पूर्वी दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर, दिल्ली के मुख्य सचिव नरेश कुमार, ट्रांसपोर्ट कमिश्नर आशीष कुंद्रा सहित ट्रांसपोर्ट विभाग के स्पेशल कमिश्नर ओपी मिश्रा, जॉइंट कमिश्नर नवलेंद्र कुमार सिंह व डिप्टी कमिश्नर विनोद यादव सहित कई अधिकारी मौजूद रहे.

कितने दिन का है कैब ड्राइविंग ट्रेनिंग प्रोग्राम
बता दे कि महिलाओं को कैब कि ट्रेनिंग देने का खास प्रोग्राम सराय काले खां स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ ड्राइविंग एंड ट्रैफिक रिसर्च के विशेषज्ञों की निगरानी में किया गया है. ये ट्रेनिंग प्रोग्राम 23 दिन का है . इसमें महिलाओं को कुल 29 घंटे की ट्रेनिंग दी जाएगी. वहीं दो दिन 4-4 घंटे की थ्योरी क्लास भी होगी. उसके बाद 4 दिन रोज एक-एक घंटे ड्राइविंग सिम्युलेटर पर ट्रेनिंग दी जाएगी, बाकी के 17 दिन रोज 1-1 घंटे की प्रैक्टिकल ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट के परिसर और मेन सड़क पर गाड़ी चलवाकर दी जाएगी. ट्रेनिंग पूरी होने के बाद टेस्ट भी लिया जाएगा और पास होने वाली महिलाओं को ही लाइट मोटर व्हीकल का लाइसेंस जारी किया जाएगा.

पहले बैच में 59 महिलाओं ने कराया रजिस्ट्रेशन
बता दें कि इस नई योजना के तहत पहले साल एक हजार महिलाओं को कैब चलाने की ट्रेनिंग देकर रोजगार मुहैया कराने की योजना है. गौरतलब है कि अब तक पहले बैच के लिए 59 महिलाओं द्वारा रजिस्ट्रेशन करवाया जा चुका है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here