दिल्ली: यमुना में 4 स्कूली बच्चे डूबे..

डूबने वाले सभी नौवीं क्लास के छात्र..

नई दिल्लीः इन दिनों बरसात का मौसम चल रहा है और एेसे मौसम में लगातार देश के कई इलाकों में भारी बारिश का कहर देखने को मिला है। वहीं राजधानी दिल्ली की बात करें तो यमुना नदी के बढञ जलस्तकर ने दिल्ली वालों को डरा कर रख दिया है। जहां एक तरफ पर्रशासन ने लोगों को यमुना नदी से दूर रहने की सलाह दी है, वहीं यमुना नदी में 4 बच्चों के डूबने की खबर सामने आ रही है। इस खबर से प्रसासन में हड़कंप मच गया है और शवों को नदी से निकालने का काम किया गया। बताया जा रहा है कि दो शवों को बाहर निकाल लिया गया, जबकि दो शवों की तलाश की जा रही है।

दिल्ली के अलीपुर एरिया में पल्ला गांव के पास 7 लड़के हरियाणा से चलकर यमुना में नहाने के लिए आए।  ये सभी लड़के नौवीं क्लास के पढ़ने वाले हैं और छुट्टी के दिन सुबह सुबह यमुना में नहाने कि इन्होंने योजना बनाई थी।  सबसे पहले ये दिल्ली और हरियाणा के यमुना के जीरो पॉइंट पर पहुंचे वहां पर पानी का बहाव तेज देख इन्होंने नहाने का मन बदल लिया। वहां से चलकर ये दिल्ली की तरफ आगे बढ़े।  दिल्ली में यमुना की जानकारी नहीं थी कि यमुना कहां पर अचानक गहरी है और कहां पर उथली है । ये सब पल्ला में आकर जब यमुना में नहाने लगे तो चार लड़के यमुना में बह गए चारों लड़के नाबालिक हैं।  डूबने वाले लड़कों में तीन लड़के दिल्ली से लगते हरियाणा के गांव शेरशाह और एक लड़का गांव लख्मी प्याऊ का रहने वाला है।  सभी लड़के नौवीं क्लास के छात्र है।  इनमें 14 साल का आदित्य,  13 साल का अंकित,  13 साल का ललित और 12 साल का नितिन शामिल है।  अंकित और आदित्य सगे भाई है । अंकित का शव मिल गया है और आदित्य का शव अभी तक नहीं मिला है।  अभी तक दो ही शव मिले हैं बाकी दो बच्चों के शवों की तलाश में गोताखोर बोट क्लब के कर्मचारी दमकल विभाग और दिल्ली पुलिस के जवान जुटे हुए हैं।
ये सभी लड़के अपनी साइकिल से यमुना किनारे बने हुए पक्के पुश्ते से चलते हुए यहां दिल्ली के हिस्से तक पहुंचे थे । अब जरूरत है यमुना किनारे रहने वाले गांवो के बच्चों के अभिभावक भी अपने बच्चों को इस बात का ख्याल जरूर रखें कि वे साइकिल आदि चलाते हुए यमुना की तरफ न जाएं और यमुना में नहाने का प्रयास न करें क्योंकि यमुना आजकल उफान पर है।   भंवर में फंसने पर तैराक बच्चों को यमुना डूबो सकती है।  जरूरत है अभिभावक अपने बच्चों को यह बात समय-समय पर समझाते रहे और ध्यान भी रखें।  इस हादसे में दो बच्चों के शव निकाल लिए गए हैं और उनको अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है साथ ही तो बच्चों के शवों की तलाश जारी है।

COMMENTS

%d bloggers like this: