48 घंटे में सुलझाया 85 लाख की चोरी का मामला

दिल्ली। माॅडल थाना इलाके के गुजरांवाला में हुई चोरी की एक वारदात को पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने अड़तालीस घंटे के अंदर इस मामले में लिप्त तीन घरेलू नौकरानियों और इनमें से एक के रिश्तेदार को पकड़ कर चोरी का सारा सामान बरामद कर लिया है। बरामद सामान में अस्सी लाख के जेवरात और लगभग साढ़े पांच लाख की नकदी शामिल है।
    उत्तर-पश्चिम जिला पुलिस उपायुक्त असलम खान ने बताया कि गुजरांवाला टाऊन में रहने वाले प्रवीन बेदी के घर से रहस्यमय हालात में चोर पचासी लाख के गहने और नकदी चुरा ले गये। उस समय वह अपने परिवार के साथ किसी शादी-समारोह में गये हुए थे और घर में एक नाबालिग सहित तीन नौकरानियां उपस्थित थीं।
   
पुलिस उनसे पूछताछ की लेकिन, कोई सुराग हाथ नहीं लगा। घर तथा आस-पास की सीसीटीवी फुटेज की जांच में पता चला कि घरेलू नौकरानी कुंती और दीपा घर से बाहर आई-गईं और एक व्यक्ति भी गली में दिखाई दिया जिसने खुद का चेहरा छिपा रखा था।
जांच टीम के एसीपी हुक्मा राम ने घरेलू नौकरानियों से दोबारा पूछताछ की तो मामला खुल गया। नौकरानियों ने वारदात को अंजाम देना कबूल कर लिया और बताया कि इसमें कुंती का देवर रोहित भी शामिल था। पुलिस ने उनसे हुई पूछताछ के आधार पर रोहित को भी गिरफ्तार कर लिया।
   
कुंती तथा दीपा ने नाबालिग नौकरानी को भी अपने साथ मिला लिया था। चोरी गये सारे गहने और पूरी नकदी भी पुलिस ने आरोपियो की निशानदेही पर जब्त कर ली है। डीसीपी असलम खान ने बताया कि पूरा मामला एकदम चुनौतीपूर्ण था। इतनी बड़ी वारदात के बाद पूरी काॅलोनी में भय का माहौल था। मामले के सुलझ जाने से लोगों का खोया विश्वास भी लौटा है तथा उन्हें यह भी समझ में आया है कि घरेलू नौकर का पुलिस वेरिफिकेशन करवाना भी समझदारी है।

COMMENTS

%d bloggers like this: