हरियाणा में करीब 2.5 लाख महिलाएं स्तन कैंसर का शिकार,डॉ: अनीश मारू!

कैंसर रोग से मरने वालों की संख्या में दो गुणा से अधिक वृद्धि हुई है।

प्रतीक चित्र

हरियाणा || (प्रवीण कुमार) हिसार में सर्वोदय मल्टी स्पेशियलटी एंड कैंसर अस्पताल में ओंकोलॉजी के डीएम  मेडिकल ओंकोलॉजी और निदेशक एवं ही मैटो ओंकोलॉजिस्ट द्वारा  कैंसर जागरूकता अभियान के तहत प्रैस वार्ता का आयोजन किया गया।

डा. अनीश मारु ने बताया कि पंजाब के बाद हरियाणा में भी कैंसर लगातार अपने पांव पसार रहा है। प्रदेश में करीब ढाई लाख महिलाएं स्तन कैंसर का शिकार है। हरियाणा में तीन साल के भीतर कैंसर रोग से मरने वालों की संख्या में दो गुणा से अधिक वृद्धि हुई है।

यह हरियाणा जैसे छोटे एवं खुशहाल प्रांत के लिए गंभीर चिंता का विषय है। उन्होंने बताया कि  करते हुए कहा कि राज्य में हरियाणा में कैंसर से संबंधित मौतों में तेजी से वृद्धि देखी जा रही है। पिछले तीन सालों में राज्य में कैंसर से संबंधित मौत के मामले लगभग दोगुने हो गए हैं।

हरियाणा सरकार द्वारा हालही में सार्वजनिक की गई एक रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2013 में जहां कैंसर का शिकार 1845 लोगों की मौत हुई थी वहीं वर्ष 2016 में यह आंकड़ा 3668 तक पहुंच गया। उन्होंने कहा कि हरियाणा में रोहतक कैंसर के कारण होने वाली मौत के मामले में सबसे उपर है। यहां 2016 में कैंसर से संबंधित मौत के 553 मामले दर्ज किये गए थे।

उसके बाद यमुना नगर में 532 मामले दर्ज किए गए थे। सोनीपत और पंजाब के सीमावर्ती जिलों सिरसा और फ तेहाबाद में कैंसर से संबंधित मौत के 315 से 329 मामले दर्ज किये गए। डॉ.अनीश मारू के अनुसार यह संख्या केवल प्रतीकात्मक है और वास्तविकता में यह संख्या कहीं अधिक हो सकती है। नेशनल कैंसर रजिस्ट्री से अब तक कोई केंद्र नहीं जुड़ा है।

हरियाणा में कैंसर के मामलों का अंदाजा उन मरीजों से भी लगाया जा सकता है जो देश के अन्य केंद्रों में रिपोर्ट करते हैं। डॉ.मारू के अनुसार कैंसर के कुल मामलों में स्तन कैंसर काफ ी तेजी से बढ़ रहा है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद आईसीएमआर के अनुसार कैंसर के सभी मामलों में 10 प्रतिशत मामले स्तन कैंसर के होते हैं। इस लिहाज से सिर्फ  हरियाणा में ही स्तन कैंसर के 2 से 2. 5 लाख मामले हो सकते हैं।

COMMENTS

%d bloggers like this: