मौत के 16 महीने बाद घर आया युवक, सांप के काटने से हुई थी मौत…

असल न्यूज : उत्तर प्रदेश संभल जिले में मरने के सोलह महीने बाद एक युवक जिन्दा होकर अपने घर वापस आ गया. युवक के आने से घर में खुशी का माहौल है. लोग युवक को देखने के लिए दूर- दूर से आ रहे हैं. एक शब्द में कहें तो वह पूरे जिले में चर्चा का विषय बन गया है. युवक का नाम योगेश बताया जा रहा है. फिलहाल, वह ज्यादा नहीं बोल रहा है.

मामला जिला मुख्यालय से करीब पैंतीस और गुन्नौर तहसील मुख्यालय से करीब पांच किलोमीटर दूर बसे सेमला गांव का है. सेमला के रामनिवास के तीन संतानें थीं. एक लड़का और दो बेटी. लड़के का नाम योगेश है. उनके घर में सब ठीक-ठाक चल रहा था. लेकिन साल 2017 में रामनिवास पर दुख का पहाड़ टूट गया. उनके एकलौते बेटे योगेश को सांप ने डस लिया.

इलाज और दवा – दुआ कुछ काम नहीं आया तो अंत में उसने बेटे के शव को नरोरा गंगा में प्रवाहित कर दिया गया. लेकिन इसके बावजूद भी रामनिवास ये मानने को तैयार नहीं थे कि उनके बेटे की मौत हो गई है. ऐसे में देखते ही देखते 16 महीने बीत गए. इसी दौरान रामनिवास को चंदोसी के एक संपेरे के पास योगेश के होने की सूचना मिली. इसके बाद उसने संपेरों से बातचीत की. फिर तीन संपेरे युवक को लेकर रामनिवास के घर पहुंच गए. इसके बाद पूरे गांव में खुशी की लहर दौर गई. युवक को देखने के लिए लोग दूर-दूर से आने लगे.

बुजुर्ग सपेरे ने बताया कि सांप काटने के बाद जो लोग पीड़ित को मरा समझते हैं वह मरता नहीं है. संपेरों के पास जंगल की जड़ी- बूटी की दवा है. जिससे वह इलाज कर सर्पदंश से मृत घोषित लोगों को जिन्दा कर देता है. वहीं, रामनिवास ने भी घर आए युवक को अपने पुत्र के रूप में पहचानने का दावा किया है.

COMMENTS

%d bloggers like this: