एम्स में सफल रहा किडनी ट्रांसप्लांट सर्जरी,केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली

दिल्ली|| केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली का सोमवार (14 मई) को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में किडनी प्रतिरोपण हुआ जो सफल रहा. एम्स की मीडिया एवं प्रोटोकॉल डिविजन की प्रमुख आरती विज ने एक बयान में कहा, ‘‘वित्त मंत्री अरुण जेटली की प्रतिरोपण सर्जरी सफल रही. जेटली और उनको किडनी दान करने वाले दोनों का स्वास्थ्य स्थिर है और सुधार हो रहा है.’’

किडनी की बीमारी से ग्रस्त केन्द्रीय मंत्री का पिछले एक महीने से डायलिसिस हो रहा था. सूत्रों ने अनुसार, अपोलो के गुर्दा प्रतिरोपण विशेषज्ञ डॉ संदीप गुलेरिया और उनके भाई एवं एम्स निदेशक रणदीप गुलेरिया भी प्रतिरोपण करने वाली टीम का हिस्सा थे. दोनों जेटली के पारिवारिक मित्र हैं.

अगले सप्ताह होने वाले 10वें भारत-ब्रिटेन आर्थिक और वित्तीय वार्ता के लिए लंदन जाने का अपना कार्यक्रम रद्द मंत्री ने रद्द कर दिया है. छह अप्रैल को एक ट्वीट के जरिए उन्होंने अपनी बीमारी की पुष्टि की थी. कई साल पहले जेटली के हृदय का ऑपरेशन हो चुका है.

इससे पहले बीते माह अप्रैल में केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली का अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में गुर्दा प्रत्यारोपण रद्द कर दिया गया था, क्योंकि दाता का अंग मैच नहीं कर पाया था. जेटली गुर्दा प्रत्यारोपण के लिए एम्स में तीन दिनों से सोमवार (9 अप्रैल) तक भर्ती रहे थे.

पिछली बार जेटली को एम्स के कार्डियो-न्यूरो टॉवर में शुक्रवार (6 अप्रैल) को भर्ती कराया गया था. उन्हें दाता व खुद उनके बीच गुर्दा प्रत्यारोपण शल्य चिकित्सा के लिए कागजी कार्यवाही पूरा करने के बाद भर्ती किया गया था. दाता की पहचान उजागर नहीं की गई थी.

COMMENTS

%d bloggers like this: