रोहिणी कोर्ट में पेशी पर लाए गये आरोपी की गोली मारकर हत्या

रोहिणी कोर्ट में पेशी पर लाए गये आरोपी की गोली मारकर हत्या

फाईल

ASALNEWS.COM  [ब्यूरो]

दिल्ली। रोहिणी जिला न्यायाल में सोमवार को एक कैदी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्यारे ने वारदात को अंजाम देने के बाद तुरंत ही सरेंडर कर दिया। मृतक पर धोखाधड़ी का केस दर्ज था और वह चैदह दिनों से न्यायित हिरासत में था। हत्यारे को उसके शिकार का फोटो मुहैया करवाया गया था। कोर्ट में हुई हत्या के इस सनसनीखेज मामले में चैकी इंचार्ज को हटा दिया गया और प्रशांतविहार थाना प्रभारी को लाईन हाजिर किया गया है।

फाईल

पुलिस उपायुक्त ऋषिपाल के मुताबिक प्रातः ग्यारह बजकर बीस मिनट पर कोर्ट नंबर 113 से पेशी भगत कर पुलिस कस्टडी में वापस जा रहे विनोद निवासी मंगोलपुरी को पुलिस चैकी के पास सिर में गोली मार दी गई। गोली मारने वाले ने वारदात को अंजाम देकर तुरंत ही सरेंडर भी कर दिया। गोली लगने से बेहोश हुए विनोद को तुरंत बाबा साहेब डाॅक्टर भीमराव अंबेडकर अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

फाईल

पुलिस के अनुसार हत्यारे की पहचान अट्ठारह वर्षीय अब्दुल निवासी नागलोई के रूप में हुई है। माना जा रहा है कि हत्या गैंगवार का नतीजा है। हत्यारे ने विनोद की फोटो के सहारे पहले रेकी की और मौका मिलने पर वारदात को अंजाम दे दिया। भारी सुरक्षा बंदोबस्त वाली रोहिणी कोर्ट में इस तरह की वारदातें पहले भी हो चुकी हैं।

फाईल

पुलिस के मुताबिक मृतक विनोद पर वर्ष 2010 में साऊथ रोहिणी थाने इलाके में चीटिंग का केस दर्ज किया गया था जिसमें वह पिछले चैदह दिनों से न्यायिक हिरासत में था। इसके अलावा उसके उपर और किसी तरह का कोई केस दर्ज नहीं पाया गया है।

    हत्यारे अब्दुल के उपर भी किसी तरह का कोई केस दर्ज नही पाया गया है। माना जा रहा है कि विनोद की हत्या में नीरज बवानिया गिरोह का हाथ है।

COMMENTS

%d bloggers like this: