बेचूबीर मेले दूसरे दिन उमड़ा जन सैलाब, पानी की किल्लत से परेशान रहे श्रद्धालु

बेचूबीर मेले दूसरे दिन उमड़ा जन सैलाब, पानी की किल्लत से परेशान रहे श्रद्धालु

मीरजापुर : अहरौरा थाना क्षेत्र के बरही में बेचूबीर मेला के दूसरे दिन उमड़ा जन सैलाब उमड़ पड़ा। भूतो के मेले करीब दो लाख लोगों ने मत्था टेका, इस दौरान पूरा गांव लोगो की भीड़ से पट गया था। जिसके चलते चारो तरफ दुर्व्यवस्थाओं का अम्बार सा लग गया।

मेला में पानी की किल्लत, श्रद्धालुओं में मचा हाहाकार

बेचूबीर मेले के एक दिन पहले अधिकारियों ने सेक्रेटरी को सभी हैंडपंप सही करने के निर्देश दिये थे। निर्देश से बरही गांव के लगभग दस मे से 8 हैंडपंप ठीक भी कर दिये थे। लेकिन मेले के दूसरे दिन आधा दर्जन हैंडपंपों में पानी आना बंद हो गया। जो टैंकर इमरजेंसी के लिये लगाए गए थे। सूत्रों के अनुसार उसमे पानी खत्म होने के बाद भरा ही नही गया, इसका नतीजा ये हुआ कि लगभग दो लाख लोगों को सौच जाने तक के लिये पानी नही मिला। लोग बिलबिलाते हुए पूरे गाँव मे पानी की तलाश करते रहे। मजे की बात तो ये रही कि जो सम्बन्धित अधिकारियों को पानी के किल्लत के बारे में बताया गया था, वो भी बातो को अनसुना कर अपना पल्ला झाड़ लिया। जिस विभाग को लगभग दस लाख लोगों के लिए पानी की व्यवस्था करने को कहा गया था वो विभाग टैंकर में दोबारा पानी भरवाने का जोखिम तक नहीं उठा सका।

मेला में महिला ने पुत्र को दिया जन्म

मेला में एसओ प्रवीण कुमार सिंह के सूझ बूझ से पीड़ित महिला ने बेटे को दिया जन्म। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बेचूबीर मेला में शनिवार रात्रि 10 बजे एक महिला को पूजा पाठ के दौरान प्रसव पीड़ा उत्पन्न हो गया। इसके पहले लोग कुछ समझ पाते अहरौरा एसओ प्रवीण कुमार सिंह ने अपनी टीम को आगाह कर उक्त महिला के चारो ओर से भिड़ को खाली करा टैंकर की आड़ में जानकार महिलाओ को बुलाकर प्रसव पीड़ा रहित महिला का डिलीवरी कराया। महिला को पुत्र की प्राप्ति हुई। ये देखते ही पूरा परिसर बेचूबीर बाबा के जयकारे से गूंज उठा। इस दौरान अहरौरा थाने से एसआई विमलेश सिंह, एसआई कमलेश पाल, अदलहाट एसओ विजय प्रताप सिंह समेत दर्जनों पुलिस कर्मी ने अपनी जिम्मेदारी निभाई। इसके बाद एम्बुलेंस 108 को बुलाकर महिला को अहरौरा सीएचसी पहुँचाया गया।

मेले में गुम बच्ची को खोया पाया कैम्प ने परिजनों को किया सुपुर्द

मेला में एक तीन साल की मासूम अपने परिजनों से बिछड़कर रो रही थीं। पुलिस को इसकी सूचना मिली तो वह बच्ची को खोया पाया केंद्र पर ले आयी, जहां पर बच्ची के परिजन अलाउंस सुनने के बाद पहुचे बच्ची का नाम पूजा पुत्री सतवीर उम्र 3 साल निवासी बलरई जसवंत नगर पोस्ट इटावा को सुपुर्द कर दिया गया। बच्ची के माँ-बाप अपनी खोई बिटिया को पाकर काफी खुश हो गये।

COMMENTS

%d bloggers like this: