सट्टेबाजी ने बनाया लुटेरा

दिल्ली। क्रिकेट मैचों पर सट्टा लगाने की लत ने दो दुकानदारों को कर्ज के जाल में फंसा दिया जिससे छुटकारा पाने के लिए उन्होनें लूट की योजना बनाई और उसे अंजाम दे डाला। पर पकड़े गये। मामला हरिनगर थाना इलाके का है। उनके पास से लूट की रकम का एक तिहाई हिस्सा भी मिला है। पुलिस उपायुक्त विजय कुमार ने बताया कि हरिनगर में फूड सप्लीमेंट का कारोबार करने वाले एक परिवार के घर में घुसकर लुटेरों ने तीन लाख रुपये से अधिक की नकदी और जेवरात लूट लिये। कोरियर ब्वाॅय बनकर घर में घुसे लुटेरों ने हथियार के बल पर वारदात को अंजाम दिया और वहां मौजूद महिला को अंदर बंद करके फरार हो गये। मामले की जांच के लिए गठित हरि नगर थाना पुलिस और जिले स्पेशल स्टाफ और वाहन चोरी निरोधक दस्ते ने पता लगाया कि वारदात में शामिल बदमाश डराने में इस्तेमाल की गई पिस्टल को ठिकाने लगाने की फिराक में हैंऔर बेरी वाला बाग के पास आएंगे। पुलिस ने जाल बिछाकर वहां स्कूटी पर सवार होकर आए दो युवकों तलविंद्र और पंकज कपूर को दबोच लिया। उनके पास से एक पिस्टल और दो कारतूस भी मिले। दोनों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया और अपने तीसरे साथी ठाकुर निवासी अलीगढ़ के बारे में भी बताया। ठाकुर अलीगढ का कुख्यात बदमाश हैजिसकी इस मामले में तलाश की जा रही है। पुलिस के अनुसार पकड़से गये दोनों लुटेरेछोटी दुकानों के मालिक हैं और क्रिकेट के शौकीन। आईपी एल जैसे मैचों में सट्टा लगाने के कारण वे कर्जदार हो गये। साहूकारों के दबाव के चलते उन्होने कर्जा मुक्ति के लिए लूट की योजना बनाई। दोनों के पास से एक लाख बत्तीस हजार की नकदी भी बरामद की गई है।

COMMENTS

%d bloggers like this: