अवैध निर्माण की 5 मंजिला इमारत गिरी दो की मौत, CM ने दिए जांच के आदेश

उत्तर प्रदेश।। गाजियाबाद के मसूरी थाना क्षेत्र स्थित मिसलगढ़ी (आकाश नगर) में रविवार दोपहर पांच मंजिला निर्माणाधीन बिल्डिंग भरभरा कर गिर गई। रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान एनडीआरएफ ने रात करीब 3 बजे तक 11 लोगों को निकाल लिया था। इस तरह घायलों की संख्या बढ़कर 9 हो गई, जबकि राजेश नाम के युवक और एक 7-8 साल के बच्चे की मौत हो गई। बच्चे का नाम सागर बताया जा रहा है।

आधी रात बाद भी राहत और बचाव कार्य जारी रहा। जीडीए के एक अभियंता ने इस मामले में प्लॉट मालिक दिनेश कुमार सिंह, बिल्डर मुकेश सिंह व कृष्णपाल तोमर समेत अन्य लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस छह लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

दोपहर करीब दो बजे यह बिल्डिंग अचानक तेज आवाज के साथ जमींदोज हो गई। हादसे के तुरंत बाद स्थानीय लोगों ने घायल हुए पांच लोगों को मलबे से निकालकर अस्पताल पहुंचाया। करीब सवा घंटे बाद पहुंची एनडीआरएफ ने पुलिस-प्रशासन के साथ मिलकर राहत और बचाव के लिए ऑपरेशन शुरू किया।

सीएम ने जांच कमेटी गठित की

घटना की सूचना पर पुलिस व प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंचा। पुलिस का कहना है कि बिलि्ंडग अवैध तरीके से बनाई जा रही थी। इस मामले में एक प्लॉट मालिक और पांच बिल्डरों को चिन्हित किया गया है।

एनडीआरएफ कमांडेंट पीके श्रीवास्तव ने बताया कि एक महिला ने छह साल के बच्चे के दबे होने की जानकारी दी है। उस बच्चे को अभी खोजा जा रहा है।

सीएम ने जांच कमेटी गठित की
घटना का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंडलायुक्त मेरठ, डीएम गाजियाबाद और एडीएम वित्त एवं राजस्व की अध्यक्षता में जांच कमेटी गठित कर दी है। प्रदेश सरकार ने मृतक के परिजनों को दो लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा भी की है।

 

COMMENTS

%d bloggers like this: