Delhi: रामलीला मैदान में ऐतिहासिक किसान मुक्त मार्च

हरियाणा।।(प्रवीण कुमार) अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्यवय समिति व स्वराज इडिया हिसार की  जाट धर्मशाला में प्रैस वार्ता का आयोजन किया गया। इसमें बताया गया कि किसानों की मांगों को लेकर 29 को दिल्ली के रामलीला ग्राऊड में ऐतिहासिक किसान मुक्ति मार्च किया जाएगा जिसमें हिसार से हजारों किसान बढचढ कर हिस्सा लेंगे। 30 नवंबर को दिल्ली में सांसद भवन के सामने प्रदर्शन करके किसानों की मागों को उठाया जाएगा।
अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्यवय समिति  सूबे सिंह बूरा ने कहा कि किसान सभा के आहवान पर किसान दिल्ली में बढचढ कर हिस्सा लेगें। कृषि सकंट के समाधान के लिए किसान मुक्ति यात्रा का आयोजन दिल्ली में 29 व 30 नंवबर को किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष किसान संसद का आयोजन करके हजारों लोगो ंके बीच कर्ज मुक्ति और लागत के डेढ गुमा दामों पर कृषि उत्पाद की खरीद सुनिश्चित करने से सबंधी दो बिल पारित किए थे बाद में राष्ट्रीय सम्मेलन में 19 राजनैतिक दलों नेताओं के दलों ने स्वयं हस्ताक्षर करते हुए समर्थन दिया ।
लोकसभा व राज्य सभा में दोनो बिल पेश किए जा चुके है उन्होंने कहा कि फसल बीमा के नाम पर किसानों को लूटा जा रहा है और प्राइवेट कंपनियों को मालोमाल किया जा रहा है मंडियमों में फसलों  का मूल्य किसानों को नही पा रहा है। किसानों पर कर्जे बढते जा रह है व  आत्महत्याओं की किसानों की संख्या लगातार बढ रही है। स्वामी नाथन रिपोर्ट लागू करनी चाहिए।
स्वराज इडिया से जुडे राकेश दलाल ने कहा कि स्वराज इडिया से जुडे राकेश दलाल ने कहा कि सरकार को किसान ऋण मुक्त वियेयक लागू करना चाहिए इस कानून का उद्ेश्य है कि किसानों को कर्जे से मुक्त किया जा सके। किसानों पर खेती से जुडे सभी कर्जे का जितना भी बोझ है उसे एक झटके में खत्म किया जाना चाहिए और भविष्य में किसान को ऋण के जाल में फसने से बचाया जाए। किसान कृषि उत्पाद लाभकारी मूल्य गांरटीअधिकारी विधेयक यह कानून किसानों को फसलों का सही दाम पूरा लागत ढेड गुणा दिलाने की गांरटी देता है इस कानू से किसा अपन फसल का दाम सचमुच हाासिल कर पाएगा।
इस कानून के मुताबिकत पशल सही दाम नही मिलता तो किसान अदालत जा सकेंगे और दोषी अधिकारी को सजा मिल सकेगी। राकेश दलाल ने कहा कि अगर ऐसा हुआ तो किसान को हर साल हाथ नही जोडने पडेगे और बार बार सरकार की और ताकना नही पडेगा और फसल का पूरा दाम उसका हक बन जाएगा। उसे एक झटके में कर्ज से मुक्ति मिलेगी जाएगी और  हमारा ही नही आने वाली पीढियों का का भी कल्याण हो जाएगा। उन्होने कहा कि संसद में किसानों के लिए मांगो को पूरा करना चाहिए। हरियाण सहित पूरे देस के किसान आंदोलन करेगे। आंदोलन 29 व 30 को दिल्ली में रामलीला में जाएगा और 30  को सांसद पर प्रदर्शन किया जाएगा।

COMMENTS

%d bloggers like this: