चालीस लाख की चरस मिली, दारू भी बरामद

चालीस लाख की चरस मिली, दारू भी बरामद
दिल्ली। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा अंतर्गत विभिन्न यूनिटों ने अलग-अलग मामलों में चरस तथा शराब तस्करी के मामलों में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। बरामद चरस की कीमत चालीस लाख रुपये बताई गई है। एक अन्य मामले मंे दो झपटमारों को भी पकड़ा गया है।
     अपराध शाखा अंतर्गत स्टार-2, पूर्वी परिक्षेत्र की एक टीम ने डीसीपी जी रामगोपाल नायक के नेतृत्व में एक कुख्यात चरस तस्कर को गिरफ्तार किया है। अनिल कुमार नामक इस तस्कर को नंदनगरी बस स्टैंड के पास से उस समय गिरफ्तार किया जब वह एक सैंट्रो कार में सवार होकर चरस की सप्लाई करने के लिए जा रहा था। उसके पास से चार किलोग्राम से अधिक चरस बरामद की गई है। पुलिस के अनुसार अनिल लंबे समय से इस धंधे में लगा हुआ है। वह नेपाल के रहने वाले गोपाल बहादुर से चरस लाकर मानेसर, गुरूग्राम के रहने वाले राजेश को सप्लाई करता था। एक बार में वह पांच किलोग्राम तक चरस लेकर आता था। अनिल को पकड़ने वाली टीम में एसीपी राजेश और इंस्पेक्टर विनय त्यागी आदि शामिल थे। डीसीपी के मुताबिक तस्कर के बारे में एएसआई रमेश कुमार ने सूचनाएं इकट्ठा कीं।
अवैध दारू बरामद
दूसरे मामले में द्वारका दक्षिण थाना पुलिस ने सतीश कुमार नाम के तस्कर को अवैध शराब के साथ गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी उस समय हुई ज बवह टोयोटा कैरोला कार में बाईस पेटी शराब लादकर ले जा रहा था। सतीश कुमार कीर्तिनगर, कालूपुर, सोनीपत का रहने वाला है। दक्षिण-पश्चिम जिला पुलिस उपायुक्त शिबेस सिंह ने बताया कि अवैध शराब की बरमदगी में एएसआई शैलेंद्र और सिपाही ललित मोहन द्वारा इकट्ठा की गई सूचनाओं का योगदान रहा।
    एक अन्य मामले में अपराध अंतर्गत इंटर स्टेट सेल ने दो झपटमारों को चोरी की एक बाइक तथा झपटे गये तीन मोबाईल फोनों के साथ गिरफ्तार किया है। डीसीपी राजेश देव के अनुसार झपटमारों की पहचान मनोज और रणजीत सिंह के रूप में हुई है। उन्हें एक सूचना के आधार पर शिव शक्ति मंदिर, निहाल विहार से पकड़ा गया।

COMMENTS

%d bloggers like this: