उनतालीस बाल श्रमिक मुक्त करवाए

उनतालीस बाल श्रमिक मुक्त करवाए
रिपोर्ट :- प्रदीप उज्जैन 
दिल्ली बच्चों और किशोरों से फैक्ट्रियों तथा अन्य प्रतिष्ठानों में कार्य 
करवाने वाले लोगों के खिलाफ चलाए गये एक अभियान के तहत 
उनतालीस बाल श्रमिकों को मुक्त करवाया गया है। इस सिलसिले में 
कई प्रतिष्ठानों पर अलीपुर एसडीएम इरा सिंघल के नेतृत्व में कार्रवाई
 की गई। जिन स्थानों पर बाल मजदूरी करवाई जा रही थी उनके 
संचालकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा रही है।
    अलीपुर एसडीएम ने दिल्ली सरकार के श्रम विभाग व सीडब्ल्यूसी तथा बचपन बचाओं आंदोलन के कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर समयपुर-बादली इलाके में विभिन्न प्रतिष्ठानों-दुकानों में कार्यरत उनतालीस बाल श्रमिकों को मुक्त करवाया। छापामार दस्ते के साथ पुलिस के जवान भी तैनात थे। इनमें किशोरवय दो लड़कियां भी शामिल हैं। एसडीएम ने बताया कि पांच-छह स्थानों पर छापेमारी की गई। वहां से बच्चों को मुक्त करवाकर अलीपुर स्थित डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट कार्यालय में लाया गया। जहां हाथों-हाथ उनके आधार कार्ड बनवाकर स्टेट बैंक आॅफ इंडिया में खाता खुलवाया गया। ऐसा करने से उनको मिलने वाली सरकारी मदद सीधे उनके खाते में चली जाएगी।
    उत्तरी जिला अंतर्गत नरेला, बवाना तथा समयपुर-बादली आदि में हजारों औद्योगिक इकाईयां स्थित हैं। इनके अलावा दुकानों आदि पर तथा घरों में बाल मजदूरों के कार्यरत होने की सूचना मिलने पर प्रतिष्ठान संचालकों के खिलाफ कार्रवाई की जाती है। इस तरह के अभियान आगे भी जारी रहेंगे।

COMMENTS

%d bloggers like this: