Haryana: छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ कर रही मनोहर सरकार, प्रदेश कांग्रेस सचिव पंकज पूनिया

करनाल।।(असल न्यूज़) प्रदेश कांग्रेस के सचिव पंकज पूनिया ने शुक्रवार को आई.टी.आई. के छात्र-छात्राओं पर पुलिस द्वारा की गई हवाई फायरिंग और लाठीचार्ज को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि इस मामले की न्यायिक जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पहले ही किसान और आम लोग अपनी आवाज सरकार तक पहुंचाने के लिए जीटी रोड पर जाम लगाते रहे हैं लेकिन उन पर कभी लाठियां नहीं बरसाई गई लेकिन कल सरकार द्वारा की गई कार्यवाही से साफ जाहिर है कि सरकार को देश के बच्चों के भविष्य की कोई ङ्क्षचता नहीं है।

यह सरकार लोकतंत्र नहीं बल्कि लठतंत्र को जानती है। किसी की भी आवाज को दबाने के लिए भाजपा सरकार बल प्रयोग करने से नहीं चूकती। उन्होंने आरोप लगाया कि जब से प्रदेश में भाजपा सत्ता पर आसीन हुई है तब से आम लोगों की आवाज को ल_ तंत्र से दबाने की कोशिश की जा रही है। इस सरकार ने दिखा दिया है कि उसका लोकतंत्र में कोई विश्वास नहीं है।

हक की आवाज उठाने वालों के खिलाफ सरकार केवल बर्बरतापूर्ण और कायराना हरकत करने से बाज नहीं आ रही। उन्होंने कहा कि छात्र जब अपनी मांग को लेकर जीटी रोड पर बैठे थे तो प्रशासन के आश्वासन पर वह वापिस आईटीआई संस्थान में पहुंच गए थे लेकिन पुलिस कर्मचारियों ने संस्थान में घुसकर कुछ छात्रों पर लाठियां भांज दी। जिससे माहौल बिगड़ गया और छात्र उत्तेजित हो गए।

पंकज पूनिया ने कहा कि लट्ठ चलाने की बजाय सरकार को छात्रों के साथ सौहार्दपूर्ण और प्रेमपूर्वक बातचीत का माहौल तैयार करना चाहिए था। छात्रों को प्यार से समझाया जा सकता था। उन्होंने सवाल उठाया कि आखिर किस के कहने पर हवाई फायर किए गए। उन्होंने कहा कि यदि पुलिस की गोलियां छात्रों को लग जाती तो क्या होता? सरकार ने बच्चों की जान के साथ खेलने का कायरतापूर्ण प्रयास किया है इसलिए इस मामले की हर हाल में न्यायिक जांच होनी ही चाहिए।

जिन अधिकारियों और पुलिस कर्मियों ने गलती की है उन्हें सजा दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि पुलिस इतनी ही पाक साफ थी तो संस्थान में घुसकर संस्थान के ही सरकारी प्रोफैसर और संस्थान के ङ्क्षप्रसिपल पर लाठियां बरसाने की क्या जरूरत थी। इससे जाहिर है कि सरकार की मंशा लट्ठ तंत्र से आवाज दबाने की थी। उन्होंने कहा कि छात्रों पर की गई इस कार्यवाही पर सबसे अधिक पीड़ा कांग्रेस को हुई है। कांग्रेस छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं करने देगी।

इसके लिए न केवल जन आंदोलन चलाया जाएगा बल्कि कार्यवाही को लेकर सरकार के खिलाफ याचिका भी दायर की जाएगी। उन्होंने यह भी मांग की कि पुलिस प्रशासन ने जिन 103 बच्चों के खिलाफ झूठा मामला दर्ज किया है वह फौरन निरस्त किया जाए ताकि बच्चों का भविष्य न बिगड़े। उन्होंने कहा कि भाजपा कभी भी आम लोगों की हितैषी नहीं हो सकती। भाजपा केवल सत्ता छीनना जानती है। लोगों का हक देना नहीं जानती।

COMMENTS

%d bloggers like this: