Haryana: हिसार में इन दिनों मूंगफली की फसल पक कर तैयार

हरियाणा।।(प्रवीण कुमार) हिसार में  इन दिनों मूंगफली की फसल पक कर तैयार है हिसार की अनाज मंडी में भी मूंगफली की आवक लगातार जारी है मंडी में जगह-जगह जहां मूंगफली के ढेर दिखाई दे रहे हैं वही बड़ी संख्या में लोगों को मजदूरी का कार्य भी मिल रहा है। लेकिन मुगफली की आवक को देखकर हिसार मंडी में फसलों की सुरक्षा के उचित इंतजाम नहीं है और किसानो को अपनी फसलों को खुले में ही डालनी पड़ रही है वही बात की जाए तो हिसार मंडी में न तो किसानो के फसलों के लिए शेड के प्रबंध है और न ही मंडी में किसानो की फसलों की बोली टाइम पर नहीं हो पाती जय जिसके चलते किसानो को अपनी फसलों को बेचने में काफी परेशानिया हो रही है।
वही मंडी के व्यापारियों का कहना है कि इस बार भी मूंगफली की पैदावार अच्छी है और इस समय ज्यादातर मूंगफली पड़ोसी राज्य राजस्थान से आ रही है  मंडी में आई हुई मूंगफली ओं के लिए पर्याप्त मात्रा में शेड उपलब्ध नहीं है जिसके चलते फसलों को खुले आकाश में रखना इनकी मजबूरी है व्यापारियों को सरकार से मांग की है कि मंडी में ज्यादा से ज्यादा संख्या में शेड का निर्माण कराया जाए ताकि फसलों का बरसात से बचाया जा सके और साथ ही मंडी में सफाई की व्यवस्था भी करवाई जाए। 
व्यापारी जगदीश  जैन का कहना है कि इस बार मामले की आवक बहुत अच्छी है हिसार से काफी स्टेट में और जिलों के अंदर भी माल जो है जा रहा है जगदीश का कहना है कि पहले से ज्यादा पहले की तुलना में मूसली का व्यापार बढ़ता ही जा रहा है और हिसार के अंदर आवक भी बहुत अच्छे हैं सरकार भी रेट मूंगफली के अच्छे दे रही है जगदीश का कहना है कि मंडी में सिर्फ समस्या यह है कि यहां पर समय पर प्रतिदिन बोली नहीं होती किसान जो है संतुष्ट नहीं हो पाता है व्यापारी अपने आप ही भाव कर किसान से मूंगफली खरीद लेता है किसान को यहां पर अच्छे रेट नहीं मिल पाते हैं जिसके कारण किसान काफी परेशान रहता है हम तो सिर्फ यही मांग करते हैं कि हर रोज 2 घंटे हिसार के अनाज मंडी में बोली होनी चाहिए ताकि किसान को उसकी फसल का उचित मूल्य मिल सके
रोशन लाल का कहना है कि हिसार की मंडी में किसान को यह भी नहीं पता कि उसका माल क्या रेट मिल दिख रहा है चोरी चोरी चुपके चुपके जो है किसान को कमजोर रेट बता दिए जाते हैं इसके अंदर जो है मार्केटिंग बोर्ड और सरकार की मिलीभगत के कारण किसान को इसका जो है नुकसान भरना पड़ रहा है हिसार के अंदर पड़ोसी राज्य राजस्थान से यहां पर जो किसान मूंगफली  बेचने के लिए आते हैं और किसानों को यहां पर उचित मूल्य नहीं मिल पाता है हम मांग करते हैं कि हिसार प्रशासन इसकी गहनता से जांच करवाएं।
किसान रोशन का कहना है कि हिसार मूंगफली की बैक बहुत बड़ी मार्केट बन चुका है हिसार से जम्मू कश्मीर हिमाचल यूपी-बिहार आदि कई राज्यों में जो है माल जाता है हर साल मुगफली व्यापार में काफी सुधार हो रहा है लेकिन हिसार की मंडी में किसानों के फसल के लिए कोई भी प्रबंध नहीं किए गए हैं किसानों ने मूंगफली जो है खुले आकाश के नीचे डाली हुई है अगर यहां पर बारिश आ जाए तो बेचारे किसान की सारी फसल जो है बर्बाद हो जाएगी जिसके चलते किसान कर्ज में डूब जाएगा हमारी सिर्फ यही मांग है कि किसान के माल की सुरक्षा के लिए यहां पर उचित प्रबंध करवाए जाने चाहिए ताकि दूसरे राज्य से आए किसानों की फसलों को कोई नुकसान ना हो और उनकी फसल को उचित रेट मिल सके रोशन लाल का कहना है कि मंडी के अंदर मैं तो सफाई की व्यवस्था है ना कोई पानी की निकासी है तो हम मांग करते हैं कि मंडी के अंदर साफ सफाई का भी ध्यान रखना चाहिए। 

COMMENTS

%d bloggers like this: