मोबाइल टावरों से बैटरी चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह पर्दाफांस, चार सदस्य गिरफ्तार

मोबाइल टावरों से बैटरी चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह पर्दाफांस, चार सदस्य गिरफ्तार

– असल न्यूज़ ब्यूरो

मीरजापुर : लालगंज, जिगना व क्राइम ब्रांच की टीम ने बुधवार की भोर लालगंज थाना क्षेत्र के कठार तिराहा पर हल्की मुठभेड़ के बाद मोबाइल टावरों से बैटरी चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से मोबाइल टावरों से चुराई गई बैटरी, पचास हजार नकद, तमंचा व कारतूस और चोरी की बोलेरो बरामद की है। पुलिस ने इसके दो माह पूर्व इसी तरह से बैटरी चोरी करने वाले गिरोह के सदस्यों पकड़ा था।

पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी ने बुधवार को दोपहर में पुलिस लाइन के सम्मेलन कक्ष में चोरों को मीडिया के समक्ष पेश किया और बताया कि लालगंज क्षेत्र में मोबाइल टावर से बैटरी चोरी की घटना हुई थी। इसके लिए पुलिस टीम को लगाया गया था। लालगंज, जिगना थाना प्रभारी और क्राइम ब्रांच टीम को लगाया गया था । टीम के सदस्य भोर में चार बजे कठार तिराहा के पास मौजूद थे तभी मध्य प्रदेश की तरफ से बोलेरो आती दिखाई दी। इसको रोकने का संकेत किया तो उसमें सवार लोग फायर करते हुए वाहन की रफ्तार तेज कर भागने लगे। पुलिस टीम ने कुछ दूर पीछा करके बोलेरो को पकड़ लिया।

वाहन में मध्य प्रदेश के रीवा थाना सोहागी के चिल्ला गांव निवासी जय निवास उर्फ लाला, थाना जवा क्षेत्र के इटांव निवासी दीपांकर सिंह, थाना डमौरा के सोना डायर गांव निवासी संतोष कोल और इलाहाबाद के थाना खीरी के खपटिहा निवासी बृज बिहारी गुप्ता सवार थे। तलाशी लेने पर पचास हजार रुपये नकद एक तमंचा और कारतूस बरामद हुआ। वाहन में बोरियों में भरकर रखा बैटरी का कई सामान भरा मिला। पूछताछ में चोरों ने खुद को बैटरी चोरी करने वाले गिरोह का सदस्य बताया। यह भी बताया कि गिरोह के सदस्य घूम घूमकर पहले रेकी करते है और फिर चोरी की घटना को अंजाम देते हैं। चोरी करने के बाद बैटरी कबाड़ी के हाथ बेच देते हैं। उनके तार कानपुर से जुड़े हैं। उनका सरगना जय निवास काफी दिनों तक नैनी जेल में बंद था।

COMMENTS

%d bloggers like this: