1 मार्च से बंद हो जाएगा मोबाइल वॉलेट खाता, यह है बड़ी वजह

असल न्यूज़ : 1 मार्च से आपका मोबाइल वॉलेट खाता बंद होने जा रहा है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के नियमों के अनुसार देश भर में कार्यरत 95 फीसदी मोबाइल वॉलेट बंद हो जाएंगे। इससे लोगों को ऐसे खातों का परिचालन करना बंद हो जाएगा। 

28 फरवरी है आखिरी तारीख

देश भर में कार्यरत सभी मोबाइल कंपनियों को 28 फरवरी तक अपने ग्राहकों की केवाईसी पूरी करनी है। हालांकि अभी तक ज्यादातर कंपनियों ने अपनी केवाईसी को पूरा नहीं किया है। ऐसे में 1 मार्च से इन मोबाइल वॉलेट के बंद होने का खतरा बरकरार हो गया है। 

मिली इतनी राहत

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने मोबाइल वॉलेट यूजर्स को बड़ी राहत देते हुए कहा है कि 28 फरवरी के बाद भी उनके वॉलेट में पड़ा बैलेंस खत्म नहीं होगा। इसके साथ ही वॉलेट में पड़े पैसे का इस्तेमाल सामान खरीदने में भी इस्तेमाल कर सकेंगे। पैसों को वो अपने बैंक अकाउंट में भी भेज सकेंगे।  

केवाईसी के बिना वॉलेट में पैसा नहीं होगा लोड

आरबीआई ने कहा है कि ग्राहक 1 मार्च से बिना केवाईसी के लिए वॉलेट में पैसा नहीं डाल सकेंगे। इसके साथ ही किसी को भी पैसा भेज भी नहीं सकेंगे। आरबीआई के सख्त दिशानिर्देशों के चलते ऐसा होने जा रहा है। आरबीआई का सभी मोबाइल वॉलेट कंपनियों को निर्देश है कि वो अपने यूजर्स की बेसिक केवाईसी की प्रक्रिया को पूरा कर लें। 

कुछ कंपनियां फैला रही थीं अफवाह

हालांकि कुछ मोबाइल वॉलेट कंपनियां ग्राहकों के बीच में यह अफवाह फैला रही थीं कि उनकी सर्विस 1 मार्च के बाद भी बिना केवाईसी ग्राहकों के लिए सुचारू रूप से चलती रहेंगी। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के दिशानिर्देशों के अनुसार केवाईसी करवाना अब भी अनिवार्य है। मोबाइल वॉलेट कंपनियों ने रिजर्व बैंक द्वारा जारी किए गए एक अहम आदेश को पूरा नहीं किया है। 

इन कंपनियों पर पड़ेगा असर

आरबीआई ने देश में लाइसेंस प्राप्त सभी मोबाइल वॉलेट कंपनियों को अपने ग्राहकों का केवाईसी नॉर्म्स पूरा करने के लिए फरवरी 2018 तक का वक्त दिया था। ज्यादातर कंपनियां आरबीआई के इस आदेश को पूरा नहीं कर पाई हैं। अगर फरवरी तक यह पूरा नहीं हुआ तो देश भर में कई कंपनियों के मोबाइल वॉलेट बंद हो जाएंगे। 

देश भर में ये हैं प्रमुख मोबाइल वॉलेट कंपनियां

देश भर में पेटीएम, मोबीक्विक, एसबीआई योनो, एचडीएफसी पैजेप, एम-पैसा, एयरटेल मनी, चिल्लर, अमेजन पे, फोन-पे प्रमुख मोबाइल वॉलेट कंपनियां हैं। 

पेटीएम ऐप पर ऐसे करें बेसिक केवाईसी

पेटीएम के ऐप पर जाकर के केवाईसी के आइकॉन पर क्लिक करें। इसके बाद अपना आधार नंबर और नाम एंटर करें। यह करने के बाद कंपनी की तरफ से प्रतिनिधि को भेजने के लिए आपका नाम. घर या ऑफिस का पता और पिनकोड मांगा जाएगा। इसके बाद अगले 2 से 4 दिन में कंपनी का प्रतिनिधि आपके बताए पते पर आकर के डॉक्यूमेंट्स को वेरिफाई करेगा।  

बता दें कि पेटीएम एक मात्र ऐसा मोबाइल वॉलेट है, जिसमें कंपनी का प्रतिनिधि आपके घर या ऑफिस आकर के केवाईसी की औपचारिकता को पूरा करता है। आप कंपनी की तरफ से बने केवाईसी सेंटर जाकर भी इस औपचारिकता को पूरा कर सकते हैं। लेकिन इससे पहले आपको पेटीएम के ऐप पर जाकर के बेसिक केवाईसी को आधार के जरिए पूरा करना होगा। 

COMMENTS

%d bloggers like this: