पूर्व सरकार से ज्यादा गन्ना मूल्य भुगतान, गन्ना खरीद तथा चीनी उत्पादन ज्यादा

शामली।।(दीपक कुमार) उत्तर प्रदेश सरकार के गन्ना राज्यमंत्री सुरेशा राणा ने एक प्रेसवार्ता कर कहा कि योगी सरकार में पूर्व सरकारों की अपेक्षा गन्ना मूल्य भुगतान, गन्ना खरीद तथा चीनी उत्पादन ज्यादा हुआ है। जिसको लेकर किसानों को भारी समर्थन भाजपा को मिल रहा है। उन्होने पूर्व की सरकार की तुलनात्मक स्थिति बताते हुए योगी सरकार द्वारा 284.45 करोड रूपये का ज्यादा भुगतान करने का दावा किया है।

जनपद शामली में सोमवार को प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए गन्नामंत्री सुरेश राणा ने कहा कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव किसानों के भुगतान पर बोल रहे है, लेकिन उनको किसानों के भुगतान पर बोलने का कोई अधिकार नही है। शुगर मिल गोगर पर पूर्व सरकार में 56 दिन धरना चला, लेकिन किसानों को भुगतान नही हो सका। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार आने के बाद पश्चिम के किसानों को बडी राहत मिली है। जनपद शामली की तीनों शुगर मिलों का पूर्व सरकार में वर्ष 2015-16 का मारत्र 191.79 करोड भुगतान हो सका, जबकि योगी सरकार में वर्ष 2017-18 में 475.34 करोड रूपये का किसानों का भुगतान हुआ है। और थानाभवन शुगर मिल की बात करे तो पूर्व सरकार में 101.43 करोड तथा योगी सरकार में 255.24 करोड रूपये का भुगतान हो सका है।

जबकि शामली शुगर मिल का पूर्व सरकार में 69.07 करोड व योगी सरकार में 149.42 करोड रूपये का भुगतान हुआ है। इसके अलावा ऊन शुगर मिल का पूर्व सरकार में 21.29 करोड व योगी सरकार में 70.68 करोड रूपये का भुगतान हो गया है। उन्होने आरोप लगाया कि पूर्व सरकारों में पश्चिम के किसानों को डार्क जोन में बिजली के कनेक्शन नही दिये जा रहे थे, जबकि योगी सरकार आते ही डार्क जोन में किसानों को बिजली के कनेक्शन दिये जाने का कार्य किया गया। उन्होने कहा कि उन्होने 109 गांवों में जनसभाओं को किया, जहां किसान गन्ना भुगतान को लेकर बेंहद खुश दिखाई दे रहे है। पाकिस्तान से चीनी मंगवाने की बात पर राणा ने कहा कि विपक्ष के पास बोलने को कोई मुद्दा नही है। इस लिए इस तरह के आरोप लगा रहे है। हमारे पास चीनी का प्रयाप्त  भण्डर है। और सारे गन्ने की पिराई योगी सरकार ने करा दी है।

COMMENTS

%d bloggers like this: