नरसिम्हा राव ने भेज दिया विपक्ष का नेता!

असल न्यूज़ : साल 1993 में जिनेवा में मानवाधिकार सम्मेलन का आयोजन किया गया. तब तत्कालीन पीएम पीवी नरसिम्हा राव देश ने विपक्ष के नेता अटल बिहारी वाजपेयी को संयुक्त राष्ट्र संघ में देश का प्रतिनिधित्व करने के लिए भेज दिया था.

नरसिम्हा राव के इस फैसले से देश ही नहीं दुनिया के नेता भी हैरान रह गए थे. दरअसल साल 1977 में जब जनता पार्टी की सरकार बनी और अटल विदेश मंत्री बने तो तब उन्होंने संयुक्त राष्ट्र में हिंदी में भाषण दिया था. ऐसा पहली बार हुआ था कि किसी अंतरराष्ट्रीय मंच से हिंदी में भाषण दिया गया हो, नरसिम्हा राव नही अटल की इस पहल से खासा प्रभावित हुए थे और उन्होंने ये फैसला लेकर सबको चौंका दिया.

youtube चैनल asalnews को सब्सक्राइब करें बेल आइकन को भी दबाएं

youtube चैनल ann news को सब्सक्राइब करें बेल आइकन को भी दबाएं

youtube चैनल असल आस्था को सब्सक्राइब करें बेल आइकन को भी दबाएं

आप किसी भी राज्य से हमें खबरें भेज सकते हैं खबरें भेजने के लिए हमारी ईमेल ID mail@asalnews.com पर खबरें मेल करें

आप किसी भी राज्य से असल न्यूज़ के साथ काम करना चाहते हैं तो अपना CV हमारी ईमेल ID mail@asalnews.com  मेल करें

आधार कार्ड की कॉपी ,पैन कार्ड की कॉपी, हमें मेल करें अधिक जानकारी के लिए हमारे मोबाइल नंबर:- 9891862889,9811498341 पर संपर्क करें

COMMENTS

%d bloggers like this: