लेखक संगोष्टी का आयोजन

साहित्यकारों और अन्य कला कर्मियों के लिए मारवाह स्टूडियो में लेखक संगोष्टी का आयोजन किया गया जिसका उद्देश्य इस तरह के समारोह को और बेहतर बनाने के सुझावों पर ध्यान  केन्द्रित करना था। इस अवसर पर संदीप मारवाह ने कहा की अब तक हम चार ‘ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल का आयोजन कर चुके हैं।

जिसमे अनेक गणमान्य लोग शिरकत करते है, ये फेस्टिवल इंटरनेशनल चेम्बर आफ मीडिया एंड एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री और एशियन एकेडमी आफ आर्ट के तत्वावधान में आयोजित किए जाते हैं, जिसका मुख्य स्वर हिन्दी का होता है। लवलीन थडानी ने कहा कि इन समारोहों में न तो अन्य बहु प्रचारित फेस्टिवल की तरह जरूरत से ज्यादा उबाऊ और नाटकीय  बौद्धिकता का जामा दिखता है और न ही जानबूझकर कर विवादास्पद झलकियां दिखाने की राजनीति की जाती है। यही नहीं इनमें नये से नये रचनाकारों को भी सम्मान भागीदारी का अवसर मिलता है। सुशील भारती ने कहा इस अवसर पर राईटर्स एसोसिएशन के गठन की घोषणा भी की गई और इसका एक पोस्टर भी जारी किया गया।

बैठक में एक बड़ी संख्या में साहित्य से जुड़े लोगों ने भाग लिया और सभी ने अपने बहुमूल्य विचार रखे और कहा की यह आयोजन बहुत ही महत्वपूर्ण है और इससे साहित्य और रचनाकारों का प्रोत्साहन मिलता है। संदीप मारवाह ने रचनाकारों को पुस्तक लोकार्पण, पुस्तक प्रकाशन  सहित अनेक गतिविधियों से जुड़ने का भी निमंत्रण दिया। अब तक देश के प्रतिष्ठित साहित्यकार एक बड़ी संख्या में इन आयोजनों में भाग ले चुके हैं और सम्मानित भी हो चुके हैं।

COMMENTS

%d bloggers like this: