Home Blog Page 2

शाहबाद डेरी की झुग्गियों में जबरजस आग, 5 साल के बच्चे की मौत

0

असल न्यूज़। बाहरी उत्तरी दिल्ली के शाहबाद डेरी एरिया की झुग्गियों में शुक्रवार शाम के वक्त अचानक आग लग गई। आग काफी बड़ी थी जिसने 24 झुग्गियों को तुरंत अपनी चपेट में ले लिया और 24 झुग्गियां जलकर राख हो गई। आग काफी भयंकर थी और एक 5 साल का बच्चा झुग्गी के अंदर सो रहा था वह गंभीर रूप से झुलस गया है। बच्चे को अस्पताल ले जाया गया है। साथ ही बच्चे को बचाने के दौरान एक फायर कर्मी भी इंजर्ड हो गया है।

आग के बीच में ही गर्म पानी में फायर कर्मी का पांव चला गया और वह इंजर्ड हो गया। फिलहाल दमकल की 15 गाड़ियां आग को पूरी तरह से आग बुझाने में लगी हुई थी। आग को कंट्रोल कर लिया गया। कुलिंग का काम जारी है। गनीमत रही कि दमकल की गाड़ियों ने आग को तुरंत काबू में कर लिया वरना यहां पर हजारों झुग्गियां मौजूद थी और दूसरी झुग्गियों में भी आग लग सकती थी।

इन झुग्गियों में प्लास्टिक की थैलियां आदि उठाने का काम करने वाले लोग रहते थे और उन्होंने अपनी झुग्गियों में बड़ी संख्या में प्लास्टिक भी इक्कठा किया हुआ था। प्लास्टिक का कूड़ा भी वहां पर झुग्गियों के पास जमा था इसलिए आग तुरंत फैल गई जिसने 24 झुग्गियों को अपनी चपेट में ले लिया। फिलहाल 5 साल के बच्चे की हालत गंभीर बनी हुई है। अंबेडकर अस्पताल में ले जाया गया जिसे डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

जरूरत है गर्मी के मौसम में इस तरह की झुग्गियों में रहने वाले लोग भी सावधानी बरतें। कुछ ऐसा इंतजाम भी रखें कि जब तक फायर की गाड़ी पहुंचे तब तक वह अपने प्रयास से भी आग को बुझा सके।

रोहिणी में बदमाशों ने दो युवकों पर चलाई अंधाधुंध गोलियां, एक की मौत एक घायल.

0

असल न्यूज़। राजधानी दिल्ली में अपराधियों के हौसले इस कदर बुलंद है कि दिनदहाड़े ही गोलियां चला देते हैं। वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाते है। ताजा मामला रोहिणी सेक्टर 16 का है। जहा सीएनजी पम्प के सामने ही दो छात्रों पर कार सवारों बदमाशो ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। परिजनों से मिली जानकारी के मुताबिक एक छात्र मौके पर ही मौत हो गई। जिसकी पहचान अनुज उर्फ अर्जुन के रूप में हुई है। वही घायल छात्र की पहचान यश के रूप में हुई है। यह दोनों भाई थे मामा और बुआ के लड़के बताए जा रहे हैं। जो सीएनजी पम्प के सामने जाकर ही खड़े हुए थे। इतनी देर में ही कार में सवार बदमाशो ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी हमलावर मौके वारदात से फरार हो गए।

सूचना के बाद मौका ए वारदात पर दिल्ली पुलिस पहुंची है। और आसपास के सीसीटीवी कैमरे को खंगाल रही है। साथी सीएनजी पम्प पर लगा कैमरे को भी चेक किया जा रहा है।

रोहिणी सेक्टर 16 में दो दिन में यह दूसरी वारदात है। दो दिन पहले भी भरे बाजार में बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई थी। जिसके बाद भी हमलावर मौका ए वारदात से फरार हो गए थे। दो दिन पहले हुई वारदात के दिल्ली पुलिस सुराग भी नहीं जुटा पाई थी। कि रोहिणी सेक्टर 16 के सीएनजी पम्प पर एक और वारदात को अपराधियों ने अंजाम देदिया जिसमें दो युवकों पर कार सवार बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी।

दिल्ली में बढ़ता कोरोना के कारण सभी स्कूल बंद: अरविन्द केजरीवाल

0

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना नए सिरे से पांव पसार रहा है. गुरुवार शाम के करीब सात बजे दिल्ली स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 7437 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं और 24 लोगों की मौत हुई है.

असल न्यूज़: कोरोना के बढ़ते मामलों को देख दिल्ली में सभी स्कूल (सरकारी, प्राइवेट सहित) और सभी क्लासेज अगले आदेश तक के लिए बंद कर दी गई है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है.

बता दें राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना नए सिरे से पांव पसार रहा है. गुरुवार शाम के करीब सात बजे दिल्ली स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 7437 लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं और 24 लोगों की मौत हुई है. इससे पहले बुधवार को 5506 लोग कोरोना से संक्रमित हुए थे.

अब तक राष्ट्रीय राजधानी में 698008 लोग संक्रमित हुए हैं और 11157 मरीजों की मौत हुई है. अब तक राष्ट्रीय राजधानी में 698005 लोग संक्रमित हुए हैं और 11157 मरीजों की मौत हुई है.

इस समय शहर में 23181 मरीजों का इलाज चल रहा है. दिल्ली में 4226 कंटेनमेंट जोन हैं. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली में 30 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लागू किया गया है.

अप्रैल में सामने आए कोरोना के नए मामले
1 अप्रैल- 2790
2 अप्रैल- 3594
3 अप्रैल- 3567
4 अप्रैल- 4033
5 अप्रैल- 3548
6 अप्रैल- 5100
7 अप्रैल- 5506

OMG: तीन दिन के बच्चे ने की आठवीं क्लास पास.

0

असल न्यूज़: बिहार के एक स्कूल ने ऐसा ट्रांसफर सर्टिफिकेट जारी किया है, जिसके मुताबिक 3 दिन के बच्चे ने 8वीं कक्षा पास की है। ट्रांसफर सर्टिफिकेट के मुताबिक छात्र का जन्म 20 मार्च, 2007 को हुआ था और उसने 23 मार्च, 2007 को परीक्षा पास कर ली थी।

जिस छात्र प्रिंस कुमार को यह सर्टिफिकेट जारी किया गया है, उसने मीडिया को बताया, मैंने मुजफ्फरपुर के गोसाईदास तेनगारी सरकारी स्कूल से 23 मार्च, 2007 को कक्षा 8 पास की। वहीं स्कूल ने टीसी में मेरी जन्मतिथि 20 मार्च, 2007 लिख दी है। दिलचस्प बात यह है कि स्कूल की प्रिंसीपल ने यह गलती देखे बिना उस पर हस्ताक्षर भी कर दिए। जब मैं इस मामले को लेकर स्कूल गया और प्रिंसिपल से मिलने की कोशिश की तो स्कूल वालों ने मुझे स्कूल से बाहर निकाल दिया। इसके बाद मेरे पिता ने जिला शिक्षा अधिकारी (डीईओ) से संपर्क किया और उन्होंने इसमें लिपिकीय गलती होने की बात स्वीकार की।

मुजफ्फरपुर डीईओ ने कहा, यह एक लिपिकीय गलती थी और हम इसे जल्द ही ठीक कर देंगे। हमने स्कूल प्रशासन के खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी शुरू कर दी है। इससे पहले भी ऐसी ही एक गलती में मुजफ्फरपुर के भीम राव अंबेडकर विश्वविद्यालय ने बीपी द्वितीय वर्ष के छात्र के एडमिट कार्ड में पिता का नाम इमरान हाशमी और मां का नाम सनी लियोनी लिख दिया था।

राजपार्क थाना पुलिस तीन साल के मासूम को अपहरणकर्ताओ से 48 घंटे के भीतर ही छुड़वाया, पांच गिरफ्तार

0

प्रभाकर राणा। दिल्ली की राजपार्क थाना पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी तीन साल की मासूम बच्ची के अपहरण के बाद पुलिस महज 48 घंटे में मामले को सुलझाया बच्ची का किडनेप करने वाले गिरोह के सभी सदस्यों को किया गिरफ्तार, आरोपियों ने बच्ची बेचने के लिए किया था। किडनैप मासूम को सकुशल बरामद कर बच्ची के परिवार को सौंपा बच्ची का परिवार राजपार्क थाना पुलिस के एसएचओ समेत तमात टीम और दिल्ली पुलिस के अधिकारियों का कर रहा हैं। धन्यवाद. पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों से 84500 रूपए नकद राशि भी की बरामद फिल्हाल पुलिस आगे की कार्रवाई में जुटी।

राजधानी दिल्ली की सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी संभाल रही दिल्ली पुलिस आम लोगों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। और उसने यह साबित भी कर दिखाया है दिल्ली की राजपार्क थाना पुलिस ने अपने स्लोगन दिल्ली पुलिस दिल की पुलिस को भी सार्थक कर इसका एक जबरदस्त उदाहरण प्रस्तुत किया है। जिले के DCP से प्रप्त जानकारी के अनुसार राज पार्क थाना पुलिस ने एक बड़ी सफलता हासिल कर एक हंसते खेलते परिवार की ख़ुशी भी दोगुनी कर दी है।

दरअसल पूरा मामला बीते 6 अप्रैल का है जहां बाहरी जिला के राज पार्क थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मंगोलपुरी के यू ब्लॉक से तीन साल की मासूम बच्ची के गुम होने की सूचना पुलिस को मिली. जिसके बाद राज पार्क थाना पुलिस समेत बच्ची के परिजनों ने उसे काफी ढूंढा लेकिन उसका कोई सुराग नही मिला। मामले की गंभीरता को देखते हुए राजपार्क थाना एसएचओ अशोक कुमार के नेतृत्व में ASI अजय कुमार, हैंड कांस्टेबल राजेश, समेत कांस्टेबल घनश्याम, ओमबीर, अजय व निशी आदि की एक टीम गठित की गई चूंकि मामला 3 साल की मासूम के संदिग्ध परिस्थितियों में गायब होने का था तो इसलिए पुलिस पहले से ही अपहरण के एंगल से भी जांच भी कर रही थी।

पुलिस टीम ने भी अपनी सक्रियता दिखाते हुए बच्ची को ढूंढने का काम शुरू कर दिया और आसपास के सेकड़ो लोगो से पूछताछ कर घटना स्थल के करीब लगे दर्जनों कैमरो की फुटेज को खंगाला जिसमे एक फुटेज में उक्त बच्ची के साथ एक महिला की धुंधली सी तस्वीर दिखी।

सीसीटीवी फुटेज में दिख रही संदिग्ध महिला की पुलिस ने गहनता खोजबीन की ओर आखिरकार काफी मशक्कत के बाद उस तक पहुँच गयी जिसकी पहचान रवि और उसकी पत्नी के रूप में हुई। पुलिस ने जब इनसे सख्ती से पूछताछ की तो उन्होने अपना गुनाह कबूल करते हुए बताया एक महेश नाम के शख्स ने पैसे के बदले इस काम को करने को कहा, जिसके बाद महेश को भी गिरफ्तार किया गया।

महेश ने पुलिस पूछताछ में उसने बताया कि रामप्रसाद नाम के शख्स ने अपनी बहन को बच्चा देने के लिए यह काम उन्हें सौंपा था जिसके बाद रामप्रसाद को गिरफ्तार कर बच्ची को राजपार्क पुलिस ने सकुशल बरामद कर लिया है। पुलिस उपायुक्त ने बताया कि इस पूरे घटनाक्रम में कुल 5 लोगों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 84500 रूपए नकद राशि भी बरामदगी की गई है।

वहीं बच्ची के परिवार ने बताया कि उनकी मासूम को अपहरण करने वाले दम्पति ने 1 लाख रुपये में अपने पति से अलग रहने वाली महिला को बेच दिया गया था। जिसकी कोई औलाद नही है। फिल्हाल तीन साल की ये मासूम बच्ची अब अपने परिवार के साथ है। और हंस खेल रही है। वहीं अब मासूम बच्ची के परिजन राजपार्क थाना पुलिस की इस कामयाबी के बाद पुलिस टीम की तारीफ़ करते नहीं थक रहे है. ओर हाथ जोड़कर परिवार दिल्ली पुलिस का धन्यवाद कर रहा है।

इसमें कोई दोहराय नहीं है कि इस घटनाक्रम में राजपार्क थाना पुलिस की कार्यशैली काबिले तारीफ है। क्योंकि पुलिस ने जिस तेजी के साथ काम किया उससे एक मासूम ना केवल अपने परिवार को सकुशल वापिस मिल गई है बल्कि बच्ची के साथ होने वाली अनहोनी को भी रोक दिया है। जिसके बाद से परिवार अब पुलिस को अपने लिए भगवान तक बता रहा है।

बरहाल पुलिस पकड़े गए आरोपियों से लगातार पूछताछ कर रही क्योंकि पकड़े गए लोगो मे से दो लोग एक निजी अस्पताल में बतौर वार्ड बॉय का काम करते थे ऐसे में आशंका है कि उन्होंने इस तरह से किसी अन्य वारदात को तो अंजाम नही दिया है। लेकिन जिस तरह से राजपार्क थाना पुलिस ने महज 48 घण्टे में ही एक मासूम के ब्लाइंड अपहरण की गुत्थी को सुलझाते हुए उसे उसके परिवार को सौंपकर जो खुशी परिवार को लौटाई वो काबिले तारीफ है। और दिल्ली पुलिस के स्लोगन दिल्ली पुलिस दिल की पुलिस को भी सार्थक कर दिया है।

दलित महिला से तीन युवकों ने किया रेप. दो गिरफ्तार

0

असल न्यूज़: यूपी के कानपुर के घाटमपुर इलाके में एक दलित युवती के साथ गैंग रेप का मामला सामने आया. खेत में गेहूं काट रही युवती को तीन युवक जबरदस्ती उठाकर ले गए. आरोप है कि तीनों ने उसके साथ रेप किया. एक आरोपी ने खुद को दारोगा बताकर किसी को कुछ नहीं बताने की धमकी दी.

पीड़िता ने वहां से भागकर गांव वालों को घटना की सूचना दी. जिससे गांव वालों ने चारो तरफ घेराबंदी कर दो आरोपियों को मौके से पकड़ लिया, जबकि एक आरोपी भाग गया. आरोपियों में दो दूसरे धर्म के होने के कारण लोगों में काफी आक्रोश देखने को मिला. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल का निरीक्षण करने के साथ ही दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

युवती की शिकायत पर मामला दर्ज

एसपी कानपुर आउटर ने बताया कि दलित युवती की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है. मामले में पुलिस ने दो आरोपियों मनोज और शमशाद को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस तीसरे आरोपी नसीम की गिरफ्तारी का प्रयास कर रही है. वहीं पीड़िता को मेडिकल के लिए भेजा जा रहा है.

नरेला अनाज मंडी पहुंचे मंत्री गोपाल राय, FCI अधिकारियों को लगाई फटकार.

0

असल न्यूज़। दिल्ली सरकार का बड़ा आरोप किसानों का गेहूं एमएसपी पर खरीदने के लिए फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया तैयार नहीं. साथ ही इस मामले में PM मोदी से हस्तक्षेप करने की अपील और FCI अधिकारियों को दिल्ली के कृषि मंत्री गोपाल राय ने लगाई फटकार दिल्ली में किसानों को किसानी का दर्जा नहीं। दिल्ली में गेहूं बेचने वाले को FCI कैसे माने किसान।

यह भी एक संकट FCI के सामने है क्योंकि अधिकतर गेहूं प्राइवेट व्यापारी भी बेचते हैं। क्योंकि FCI एमएसपी पर किसानों से ही खरीद करती है व्यापारियों से नहीं। दिल्ली के किसानों के लिए बड़ी मुसीबत खड़ी हो गई है। गेहूं की फसल कटने के बाद अब उनका अनाज एमएसपी पर खरीदने के लिए FCI तैयारी नहीं है। दिल्ली सरकार के कृषि मंत्री गोपाल राय ने ये दावा करते हुए पीएम मोदी से इस मामले में हस्तक्षेप करने की अपील की है।

इतना ही नहीं उन्होंने इस मामले में FCI अधिकारियों को भी फटकार लगाई और ज्लद से जल्द किसानों की समस्या हल करने को कहा। गोपाल राय ने आगे कहा कि किसान आंदोलन के समय में गेहूं की फसल देशभर में पककर तैयार हो चुकी है। लेकिन FCI द्रारा पुख्ता इंतजाम न होने के कारण किसानों को भाड़ी परेशानियों का सामना कर रहा पर रहा है।

जानकारी के लिए बता दें कि नरेला अनाज मंडी में किसानों की गेहूं 1750 रुपए प्रति क्विंटल से 1770 रुपए प्रति क्विंटल तक बिक रही है। यहां पर इन किसान नेताओं ने दावा किया कि सरकार की तरफ से एमएसपी नरेला अनाज मंडी में 1975 रुपए प्रति क्विंटल है। वहीं तय कीमत के हिसाब से गेहूं नही बिकने का मुद्दा इन किसानों के प्रतिनिधिमंडल ने उठाया और कहा कि यहां पर किसानों की पूरी गेहूं खरीदी भी नहीं जा रही है।

जहां एक तरफ केंद्र सरकार किसान आंदोलन को खत्म करने की बात कर रही हैं वहीं दूसरी तरफ सरकार का दावा फेल होता जा रहा है। लेकिन सवाल ये उठता है कि एमएसपी है। और एमएसपी रहेगा तो एमएसपी पर किसानों की गेहूं की फसल क्यों नहीं बिक पा रही है। यदि दिल्ली सरकार दिल्ली में किसानों को किसानी का दर्जा दे दे तो समस्या का काफी हद तक समाधान हो सकता है।

दिल्ली की सरकार दिल्ली के किसानों को किसान का दर्जा ऑन रिकॉर्ड दे नहीं रही है उल्टा केंद्र सरकार की संस्थाओं पर आरोप लगा रही है। अब देखने वाली बात होगी की केंद्र या दिल्ली सरकार इस मामले में कोई संज्ञान लेती है या नहीं या फिर किसान यूं ही पिस्ता रहेगा।

इस मौके पर चेयरमैन नरेला अनाज मंडी संजय गुप्ता, विधायक शरद चौहान सहित कई एफसीआई के अधिकारी मौजूद थे

Covid-19: दिल्ली में नाइट कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर 480 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

0

असल न्यूज़: देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. यहां पर रोज सैंकड़ों मरीज सामने आ रहे हैं. वहीं, कई लोगों की मौत भी हो रही है. हालांकि, कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए सरकार और कॉरोना वॉरियर्स दिन- रात काम कर रहे हैं. इसके बावूद भी कोरोना का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है. इसी बीच खबर है कि दिल्ली में रात्रि कर्फ्यू का उल्लंघन करने के लिए 480 से अधिक लोगों पर मामले दर्ज किए गए. पुलिस ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. पुलिस की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, 489 मामले दर्ज किए गए. दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त जनसंपर्क अधिकारी अनिल मित्तल ने कहा कि मास्क न लगाने पर पुलिस ने 731 चालान भी जारी किए.

वहीं, कल खबर सामने आई थी कि दिल्ली में कोरोना वायरस अब बेकाबू होता जा रहा है. गुरुवार को पिछले 24 घंटे में अब तक के सभी रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 7437 मामले रिकॉर्ड किए गए. वहीं, मौतों का भी आंकड़ा हर रोज बढ़ता जा रहा है. पिछले 24 घंटे में 24 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हुई है. वहीं, अब दिल्ली में संक्रमित एक्टिव मामलों की संख्या बढ़कर 23181 हो गई है. मौतों का आंकड़ा अब बढ़कर 11157 पहुंच गया है. पिछले 24 घंटे में पॉजिटिविटी रेट 8.10 फीसदी रिकॉर्ड किया गया है.

अब 5417 बेड खाली हैं
दिल्ली सरकार की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 91770 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया. वहीं, रिकवर्ड करने वालों का आंकड़ा 3687 रिकॉर्ड किया गया. होम आइसोलेशन में भी मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. अब तक होम आइसोलेशन में 11367 लोग भर्ती हैं. अस्पतालों में भी अब बेड्स पर मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ रही है. अस्पतालों में 8813 बेड्स की व्यवस्था है जिसमें से 4212 पर मरीज भर्ती हैं. 4601 अभी खाली हैं. डेडीकेटेड कोविड केयर सेंटर में 5525 की व्यवस्था है जिस पर 100 मरीज भर्ती हैं. अब 5417 बेड खाली हैं.

Delhi University Admission 2021: डीयू में फॉरेन स्टूडेंट्स के लिए शुरू हुए एडमिशन, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

0

असल न्यूज़: दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University) ने फॉरेन स्टूडेंट्स के लिए विभिन्न ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट कार्यक्रमों में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू कर दी है. जो स्टूडेंट्स डीयू में पढ़ना चाहते हैं वे दिल्ली यूनिवर्सिटी के Foreign Students’ Registry के ऑफिशियल पोर्टल fsr2021.du.ac.in पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं. एडमिशन के लिए स्टूडेंट्स को 1,500 रुपये की फीस देनी होगी. अगर आपसे एप्लीकेशन फॉर्म में कोई गलती हुई तो आप उसे सुधार पाएंगे, इसके लिए 10 दिन बाद करेक्शन विंडो ओपन की जाएगी.

बता दें कि FSR दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन पाने के इच्छुक सभी विदेशी नागरिकों के लिए एडमिशन प्रक्रिया आयोजित करता है. उम्मीदवार दूसरे देश के पासपोर्ट धारक होने चाहिए, या उनके पास पासपोर्ट के साथ ओवरसीज़ सिटीजन ऑफ़ इंडिया कार्ड होना चाहिए. हालांकि, NRI जो एक विदेशी बोर्ड से अपनी योग्यता परीक्षा के लिए उपस्थित हुए हैं, एडमिशन के लिए पात्र नहीं होंगे.

आइये जानते हैं एडमिशन से जुड़ी हर जानकारी..

DU Foreign Students’ Registry Portal पर ऐसे करें अप्लाई

स्टेप 1: स्टूडेंट्स सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट fsr2021.du.ac.in पर जाएं.

स्टेप 2: वेबसाइट पर दिए गए रजिस्ट्रेशन के टैब पर क्लिक करें

स्टेप 3: अब अपना ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, पासवर्ड सबमिट कर रजिस्टर करें.

स्टेप 4: लॉग इन जनरेट होने के बाद, अपना ईमेल और पासवर्ड सबमिट कर लॉग इन करें.

स्टेप 5: मांगी गई सभी जानकारी सबमिट करें, और फिर डॉक्यूमेंट्स और फोटो अपलोड करें.

स्टेप 6: रजिस्ट्रेशन फीस जमा करें.

स्टेप 7: अब अपने एप्लीकेशन का प्रिंट ले लें.

महत्वपूर्ण तारीखें

प्रोग्राम का नामआवेदन की आखिरी तारीख
अंडरग्रेजुएट 3 ईयर प्रोग्राम 31 मई
पोस्टग्रेजुएट प्रोग्राम 29 जून
MBA, PhD (मैनेजमेंट) 30 अप्रैल
MPhil, PhD प्रोग्राम 30 जुलाई
1 ईयर सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, एडवांस्ड डिप्लोमा , पीजी डिप्लोमा कोर्सेज 22 अगस्त
BA, MA कोर्स (Open Learning) 29 अगस्त
Part-time affiliation in any course 22 अगस्त

जरूरी डॉक्यूमेंट्स
उम्मीदवारों को अपने जन्म प्रमाण पत्र, शैक्षिक प्रमाण पत्र, एमफिल या पीएचडी कार्यक्रमों के लिए रिसर्च प्रपोसल प्रस्तुत करना होगा, संगीत के छात्रों को अपना वीडियो, एसोसिएट्स ऑफ इंडियन यूनिवर्सिटी सर्टिफिकेट (यदि लागू हो), चिकित्सा बीमा, और फोटोग्राफ प्रस्तुत करना होगा.

Vaibhav Laxmi Vrat: वैभव लक्ष्मी व्रत कब से शुरू करना चाहिए? जानिए व्रत में क्या खाएं, महत्व व व्रत नियम

0

असल न्यूज़: आज के समय हर कोई मां लक्ष्मी का साथ चाहता है। जीवन में पैसों की कमी न हो इसके लिए लोग मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए कई तरह के उपाय करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने का सबसे आसान तरीका? जी हां, अगर आपसे मां लक्ष्मी रूठ गई हैं तो आप उन्हें वैभव लक्ष्मी व्रत से मना सकते हैं। वैभव लक्ष्मी व्रत को शुक्रवार के दिन किया जाता है। शुक्रवार का दिन माता लक्ष्मी, मां दुर्गा व संतोषी माता का माना जाता है। मान्यता है कि शुक्रवार के दिन विधि-विधान से पूजा करने से मां लक्ष्मी का आशीर्वाद प्राप्त होता है और उनका साथ हमेशा बना रहता है।

कब से शुरू करना चाहिए वैभव लक्ष्मी व्रत-

वैभव लक्ष्मी का व्रत शुक्रवार के दिन रखा जाता है। ऐसे में इस व्रत को शुक्रवार से शुरू करना चाहिए। इस दिन माता संतोषी की पूजा भी होती है लेकिन व्रतों का विधान अलग-अलग है।

कब किया जाता है वैभव लक्ष्मी व्रत-

इस व्रत को पुरुष व स्त्री दोनों ही कर सकते हैं। सुहागिन स्त्रियों के लिए यह व्रत ज्यादा शुभकारी माना जाता है। व्रत का संकल्प लेने के दौरान मन में अपनी मनोकामना अवश्य कहनी चाहिए। भक्त को अपनी श्रद्धा और सामर्थ्य अनुसार 11 या 21 शुक्रवार तक मां वैभव लक्ष्मी का व्रत जरूर करना चाहिए।

वैभव लक्ष्मी व्रत पूजन विधि-

वैभव लक्ष्मी की पूजा शाम के समय की जाती है। व्रत के दौरान पूरे दिन फलाहार करें। शाम को अन्न ग्रहण कर सकते हैं। शुक्रवार को शाम को स्नान करने के बाद पूर्व दिशा में चौकी पर लाल कपड़ा बिछाएं। इस पर मां लक्ष्मी की प्रतिमा या मूर्ति स्थापित करें। मां लक्ष्मी के बगल में श्रीयंत्र रखें। मां लक्ष्मी को सफेद वस्तुएं अतिप्रिय हैं। इसलिए पूजा के दौरान श्वेत वस्त्र पहनने की सलाह दी जाती है। सफेद फूल और सफेद रंग की चीजों का भोग मां लक्ष्मी को लगाना चाहिए। सफेद पुष्प के अलावा मां लक्ष्मी को गुलाब प्रिय है। प्रसाद में चावल की खीर बनाएं। पूजा के बाद वैभव लक्ष्मी कथा का पाठ अवश्य करना चाहिए।

कब किया जाता है वैभव लक्ष्मी व्रत-

इस व्रत को पुरुष व स्त्री दोनों ही कर सकते हैं। सुहागिन स्त्रियों के लिए यह व्रत ज्यादा शुभकारी माना जाता है। व्रत का संकल्प लेने के दौरान मन में अपनी मनोकामना अवश्य कहनी चाहिए। भक्त को अपनी श्रद्धा और सामर्थ्य अनुसार 11 या 21 शुक्रवार तक मां वैभव लक्ष्मी का व्रत जरूर करना चाहिए।

वैभव लक्ष्मी व्रत पूजन विधि-

वैभव लक्ष्मी की पूजा शाम के समय की जाती है। व्रत के दौरान पूरे दिन फलाहार करें। शाम को अन्न ग्रहण कर सकते हैं। शुक्रवार को शाम को स्नान करने के बाद पूर्व दिशा में चौकी पर लाल कपड़ा बिछाएं। इस पर मां लक्ष्मी की प्रतिमा या मूर्ति स्थापित करें। मां लक्ष्मी के बगल में श्रीयंत्र रखें। मां लक्ष्मी को सफेद वस्तुएं अतिप्रिय हैं। इसलिए पूजा के दौरान श्वेत वस्त्र पहनने की सलाह दी जाती है। सफेद फूल और सफेद रंग की चीजों का भोग मां लक्ष्मी को लगाना चाहिए। सफेद पुष्प के अलावा मां लक्ष्मी को गुलाब प्रिय है। प्रसाद में चावल की खीर बनाएं। पूजा के बाद वैभव लक्ष्मी कथा का पाठ अवश्य करना चाहिए।

21,784FansLike
2,733FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Recent Posts