राजेश बवानिया गैंग का शार्प शूटर दबोचा

राजेश बवानिया के शार्प शूटर को गिरफ्तार

फाइल

दिल्ली। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जेल से गैंग चला रहे कुख्यात राजेश बवानिया के शार्प शूटर को गिरफ्तार किया है। उसे तब पकड़ा गया जब घिर जाने पर वह पुलिस पर फायर झोंककर भागने का प्रयास कर रहा था।

    पुलिस उपायुक्त संजीव कुमार यादव ने बताया कि दिल्ली तथा सीमावर्ती इलाकों में सक्रिय गिरोहो पर नकेल कसने के लिए पुलिस प्रयासरत है। इसी के चलते एक सूचना के आधार पर एसीपी ए एस यादव के निर्देशन और इंस्पेक्टर विजय कुमार और विनय कुमार के नेतृत्व वाली टीम ने भोंडसी जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर राजेश बवाना गिरोह के एक शार्पशूटर हेमंत उर्फ भूषण को रोहिणी सेक्टर-11 से उस समय गिरफ्तार किया जब वह अपने भाई सुमित से मिलने के लिए आया। पुलिस से घिरा देख उसने गोली चलाकर फरार होने का प्रयास किया, लेकिन दबोच लिया गया। मौके तलाशी में उसके पास से दो पिस्टल्स तथा चैदह कारतूस मिले।
   पुलिस के मुताबिक हेमंत दरियापुर गांव, थाना बवाना का रहने वाला है। उस पर हत्या के प्रयास के कई मामले दर्ज हैं। वह जेल में बंद गिरोह सरगना राजेश से मिलने के लिए अकसर जाता रहता था और उसके निर्देशों के अनुसार काम कर रहा था।

फाइल

उसने विरोधी गिरोह नीरज बवानिया के साथी तथा खरखौदा निवासी मुनिया को मार डालने की गरज से उसके घर पर हमला कर दिया। घर पर न होने की वजह से मुनिया बच गया लेकिन उसका भाई दिनेश गंभीर रूप से घायल हुआ। इसके अलावा उसने मोनू बाजीतपुर से दुश्मनी के चलते उसके साथी सुमित उर्फ सोनू पर जानलेवा हमला किया और कुख्यात दीपक उर्फ कटिया को मार डालने का प्लान भी बनाया। दीपक उर्फ कटिया को राजेश बवानिया अपने लिए खतरा मानता है। कटिया को मारने के लिए उसने स्थान के रूप में दौराला टोल टैक्स को चुना पर पहचान में गड़बड़ी के चलते किसी दूसरे व्यक्ति पर पांच गोलियां चला दीं। पुलिस के मुताबिक इन विभिन्न मामलों में उसके साथ और भी बदमाश रहे हैं।

COMMENTS

%d bloggers like this: