राजेश बवाना गैंग के सदस्यों को खेतों से गिरफ्तार किया

Demo pic

हरियाणा।।(असल न्यूज़ ब्यूरो खरखौदा) गांव सैदपुर के खेतों में बने कमरे में लूट का षड्यंत्र रच रहे कुख्यात राजेश बवाना गैंग के सदस्यों की गिरफ्तारी के बाद अब पुलिस ने कमरा मालिक को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपी गांव सैदपुर निवासी योगेंद्र उर्फ मोनू है। उस पर राजेश बवाना गैंग के गुर्गों को आश्रय देने का आरोप है। यहां खेत में कमरे की घेराबंदी के बाद एक बदमाश ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। वहीं महिला समेत तीन को गिरफ्तार किया गया था।

Demo pic

सोमवार की रात को सैदपुर चौकी प्रभारी संजय कुमार की टीम ने गश्त के दौरान सैदपुर के खेत में बने कमरे पर दबिश दी थी। पुलिस को सूचना मिली थी कि कमरे में राजेश बवाना गैंग के बदमाश लूट का षड्यंत्र रच रहे हैं। पुलिस की घेराबंदी के बाद कटेवड़ा निवासी अभिषेक उर्फ शेखू व पूठ कलां निवासी सन्नी डबास बाहर आ गए थे। पुलिस ने उन्हें अवैध हथियार समेत काबू कर लिया था। इसी बीच अंदर मौजूद गांव होलंबी निवासी मनीष ने गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी। उसके साथ कमरे में एक महिला को भी गिरफ्तार किया गया था।

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। आरोपी अभिषेक व सन्नी डबास को पांच दिन के रिमांड पर लिया गया है। पुलिस जांच में सामने आया है कि योगेंद्र उर्फ मोनू ने आरोपियों को अपने कमरे में शरण दे रखी थी। जिस पर पुलिस ने बुधवार रात को उसे भी गिरफ्तार कर लिया। उससे पता लगा है कि आरोपी पहले भी उसके पास आकर रुकते रहे हैं। पुलिस ने उसे वीरवार को अदालत में पेश किया, जहां उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस उसकी कॉल डिटेल भी खंगाल रही है। जिससे उसके बारे में अन्य जानकारी जुटाईं जा सके।

बदमाशों को लेकर दिल्ली गई पुलिस

पुलिस गिरफ्तार आरोपी सन्नी व अभिषेक को लेकर दिल्ली गई है। उन्होंने पूठ दिल्ली से लूटी गई इंडेवर गाड़ी के बारे में जानकारी दी है। जिसे बरामद करने के लिए पुलिस आरोपियों को अपने साथ लेकर गई है।

अरुण कुमार, थाना प्रभारी खरखौदा पत्रकारों से बतया की बदमाशों को अपने खेत में बने कमरे में आश्रय देने के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बदमाश पहले भी उसके पास आकर रुकते रहे हैं। वहीं रिमांड पर लिए बदमाशों से लगातार पूछताछ की जा रही है।

COMMENTS

%d bloggers like this: