हास्यास्पद सीएम !

asalnews.com [वेद मामूरपुर ]
सड़कें देश -दुनियां की जीवन रेखाएं हैं। टूटी सड़कें जल भराव ,कीचड ,बदबू ,मच्छरों ,दुर्घटनाओं ,प्रदूषण और जाम हादसों के साथ राष्ट्र विकास में बड़ी बाधक हैं। अभी मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने प्रदेश की बेहद बेहाल सडकों को ही अमरीका की सडकों से कहीं अच्छी बता कर सफ़ेद झूठ से खुद को हास्यास्पद बनाते हुए खुद अपनी और पार्टी की छवि भी धूमिल कर डाली है। सत्तासीन ऐसे नेताओं के बारे में क्या कहें जिन्हें कुछ दिखाई ही नहीं देता है। इसलिए ही तो प्रायः लोग ऐसे मंत्रियों के कारण ही तो सरकार को अंधी और बहरी ही कहते हैं जो जनता और मीडिया की भी कभी सुनते ही नहीं हैं​ और ​दुर्भाग्य से ये सिर्फ अपनी मनमर्जी से कुछ भी ​गाते रहते हैं। ​लालू तो हास्यास्पद थे ही मगर ये तो शायद उनसे भी आगे निकल गए लगते है। ​

COMMENTS

%d bloggers like this: