फ़ीस के चलते माता पिता को अपमानित किया छात्रा ने दी जान

छात्रा ने एक छोटा सा सुसाइड नोट भी छोड़ा......

हैदराबाद|| स्कूल फीस न चुका ने के मामले के चलते एक नाबालिग छात्रा ने खुदकुशी करने का मामला सामने आया है. चाइल्ड राइट्स संगठन ने इस मामले में स्कूल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. पुलिस ने स्कूल के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है, जबकि शिक्षा विभाग ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

मामला हैदराबाद के मलकाजगिरी का है, जहां एक निजी स्कूल ‘ज्योति हाई स्कूल’ में 9वीं में पढ़ने वाली 14 वर्षीय साई दीप्तिवास ने गरीब माता-पिता द्वारा स्कूल फीस न चुका पाने और स्कूल प्रबंधन द्वारा इसके लिए अपमानित करने पर एक नाबालिग छात्रा ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली.

कथित तौर पर फीस न चुका पाने के चलते स्कूल प्रबंधन ने साई दीप्तिवास को परीक्षा में शामिल होने की इजाजत नहीं दी थी. साई दीप्तिवास की लाश घर के अंदर छत के पंखे से लटकती मिली. पीड़िता के पिता ऑटो चलाते हैं. परिवार कुछ समय से आर्थिक तंगी से गुजर रहा है, जिसके चलते वे साई दीप्तिवास के स्कूल की फीस नहीं चुका पा रहे थे.

स्कूल फीस न चुका पाने के चलते जब साई दीप्तिवास को परीक्षा में नहीं बैठने दिया गया तो वह तनावग्रस्त रहने लगी और आखिरकार फांसी लगाकर जान दे दी. मृत छात्रा ने एक छोटा सा सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमें उसने अपनी मां से माफी मांगी है.

साई दीप्तिवास द्वारा खुदकुशी किए जाने पर चाइल्ड राइट्स संगठन का आरोप है कि इसके लिए स्कूल प्रबंधन जिम्मेदार है. संगठन का कहना है कि स्कूल प्रबंधन के अधिकारियों को अशिक्षित करार दिया जाना चाहिए, क्योंकि पीड़िता के परिवार की आर्थिक हालत के बारे में जानने के बावजूद उन्होंने छात्रा को परीक्षा में बैठने की इजाजत नहीं दी.

COMMENTS

%d bloggers like this: