SSC पेपर लीक मामला: अन्ना भी आंदोलनकारी छात्रों के साथ !

छात्र व गृह मंत्री से मिले मनोज तिवारी

असल न्यूज़- एसएससी की परीक्षा में पेपर लीक के मामले को लेकर जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्त्ताओं ने बिहार में कई जगहों पर ट्रेनों को रोककर विरोध प्रदर्शन किया। जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्त्ताओं ने भोजपुर के आरा रेलवे स्टेशन पर कुर्ला पटना एक्सप्रेस को रोक कर सरकार तक अपनी बात पहुंचाने का उपक्रम किया।ट्रेन ट्रैक जाम हो जाने से मुगलसराय मंडल से दानापुर मंडल तक कई ट्रेनों का परिचालन बाधित हो गया। इसके अतिरिक्त खगड़िया रेलवे स्टेशन पर भी चक्का जाम किया गया

रविवार को अन्ना हजारे सीजीओ कॉम्प्लेक्स पहुंचे और विरोध प्रदर्शन में शामिल एसएससी छात्रों से मुलाकात की. अन्ना हजारे ने एसएससी परीक्षार्थियों की सीबीआई जांच की मांग का समर्थन किया.

छात्र व गृह मंत्री से मिले मनोज तिवारी

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने रविवार को एसएससी पेपर लीक मामले को लेकर प्रदर्शन कर रहे छात्रों के साथ गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की. बैठक के बाद तिवारी ने कहा कि गृहमंत्री ने छात्रों की बात सुनी है और कार्रवाई का भरोसा दिया.

राजनाथ के घर से निकलने के बाद मनोज तिवारी ने कहा कि मैंने छात्रों को गृहमंत्री से मिलवाने में मदद की, ताकि उन्हें ये एहसास रहे कि उनकी बात सुनी जा रही है. और समस्या का हल निकलेगा.

SSC परीक्षा का पेपर लीक

बता दें कि एसएससी द्वारा आयोजित सीजीएल 2017 के टियर 2 की परीक्षा के प्रश्न पत्र और आंसर की लीक हो गई थी, जिसके बाद छात्रों ने प्रदर्शन करना शुरू कर दिया. छात्रों ने पेपर लीक होने पर आरोप लगाते हुए एसएससी की परीक्षा में बड़े स्तर पर हो रही गड़बड़ी की सीबीआई जांच कराने की मांग की है. ताकि पेपर लीक में जो भी दोषी शामिल हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई हो सके.

हालांकि, हजारों की संख्या में प्रदर्शन कर रहे छात्रों का कहना है कि उनका भविष्य बर्बाद होने जा रहा है और ऐसे में सरकार की यह चुप्पी चुभ रही है. शुक्रवार को देश भर के अलग-अलग हिस्सों से आए छात्रों ने काली होली मनाई और अपना विरोध दर्ज कराया.

क्या है पूरा मामला

गौरतलब है कि इसी साल फरवरी में हुई एसएससी परीक्षा में कथित तौर पर सवाल और आंसरशीट लीक होने के आरोप लग रहे हैं. स्टाफ सिलेक्शन कमीशन की ये परीक्षा 17 फरवरी से 22 फरवरी के बीच सम्पन्न हुई थी. ये ऑनलाइन परीक्षा थी, लेकिन छात्रों का आरोप है कि परीक्षा शुरू होने के कुछ देर बाद ही सवालों और जवाबों के स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो गए.
बता दें कि एसएससी बहुत सारी परीक्षा करवाती है, जिन्हें तीन भागों में बांटा जाता है. पहला सीजीएल, दूसरा सीएचएसएल और तीसरा एमटीएस. इन तीनों परीक्षाओँ के लिए योग्यता अलग-अलग तय की जाती है.

COMMENTS

%d bloggers like this: