Surgical Strike2 से सन्न हुआ पाकिस्तान, मारा गया आतंकी मसूद अजहर का रिश्तेदार!

पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान को दिया मुंहतोड़ जवाब

असल न्यूज़ : Pulwama Terror Attack के बाद भारत ने पाकिस्तान में Surgical Strike2 की है। भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान में घुसकर Air Strikes की हैं। वायुसेना ने 12 मिराज 2000 विमानों ने पाकिस्तान में आतंकी कैंपों को ध्वस्त कर दिया। विदेश सचिव विजय गोखले ने मंगलवार सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस करके वायुसेना के इस पराक्रम की पुष्टि की है। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में सुबह एनएसए और कैबिनेट की बैठक भी हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति को भारतीय वायु सेना द्वारा गुलाम कश्मीर में किए गए Air Strikes की जानकारी दी है।

NSA अजित डोवाल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत और वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ के साथ मिलकर सीमाई क्षेत्रों की सुरक्षा का जायजा ले रहे हैं।

इस बीच विदेश मंत्री सुषमा स्वराज में शाम पांच बजे सर्वदलीय बैठक बुलायी है। उधर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी एक आपात बैठक बुलाई है। भारतीय वायुसेना के 12 मिराज 2000 विमानों द्वारा पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों पर Air Strike के बाद स्थिति पर चर्चा करने के लिए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने यह बैठक बुलाई है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भारत की Surgical Strike2 को भारत की तरफ से बड़ी कार्रवाई बताया है। उन्होंने कहा कि यह भारत ने गंभीर आक्रामकता का परिचय दिया है। यह एलओसी की अवमानना है और पाकिस्तान के पास अपनी सुरक्षा के लिए उचित कदम उठाने का पूरा अधिकार है।

भारत में रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुडा ने कहा, ‘हमारे पायलट सुरक्षित हैं और मुझे लगता है कि ऐसी कार्रवाई जरूरी थी। Pulwama Terror Attack के बाद इस तरह की बड़ी कार्रवाई होगी, मुझे इसको लेकर पूरा यकीन था कि सरकार कोई कदम जरूर उठाएगी। उन्होंने कहा, ऐसा कदम उठाने के लिए सरकार को बधाई और एयरफोर्स को भी बालाकोट में मिशन को सफलतापूर्वक अंजाम देने के लिए बधाई।’ बता दें कि साल 2016 में जब सर्जिकल स्ट्राइक हुई थी उस वक्त लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुडा नॉदर्न आर्मी कमांडर थे।

भारत के विदेश सचिव ने मंगलवार सुबह बताया कि 14 फरवरी को जैश-ए-मुहम्मद के आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) में 40 जवान शहीद हो गए थे। उन्होंने बताया कि इंटेलिजेंस के मुताबिक जैश-ए-मुहम्मद भारत पर और भी फिदायीन हमले की तैयारी कर रहा था। इन हमलों को रोकने के लिए भारत ने मंगलवार तड़के हवाई हमला किया। इस हमले में बालाकोट में जैश-ए-मुहम्मद का सबसे बड़े कैम्प को तबाह कर दिया है।

विदेश सचिव विजय गोखले ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि भारतीय वायुसेना के इस Air Strikes में जैश-ए-मुहम्मद के कई आतंकवादी, उनके ट्रेनर और कमांडर मारे गए हैं। उन्होंने बताया कि एयर स्ट्राइक के दौरान इस बात का ध्यान रखा गया था कि वहां के आम लोगों को किसी तरह का कोई नुकसान न हो।

भारतीय वायुसेना की इस कार्रवाई में जैश-ए-मुहम्मद के सरगना मसूद अजहर के रिश्तेदार और भारत में वांछित आतंकि यूसुफ अजहर उर्फ मोहम्मद सलीम उर्फ उस्ताद गोहरी के मारे जाने की भी खबर मिल रही है।

बता दें कि Pulwama Terror Attack के बाद भारत ने मंगलवार तड़के एक और Surgical Strike करके पाकिस्तान को भौचक्का कर दिया है। भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर उसे सबक सिखाया है। भारतीय वायुसेना के विमानों ने पाकिस्तान में घुसकर आतंकी संगठन जैश ए मुहम्मद के कई ठिकानों पर लेजर गाइडेड बम गिराकर नेस्तनाबूद कर दिया है। भारतीय वायुसेना के मिराज 2000 विमानों ने पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में एक टार्गेट को ध्वस्त किया।

NSA अजित डोवाल ने मंगलवार सुबह पीएम मोदी को Surgical Strike2 के बारे में जानकारी दी। प्रधानमंत्री के आवासा 7 लोक कल्याण मार्ग में पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में कैबिनेट की बैठक हुई। गृहमंत्री राजनाथ सिंह और रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण इस बैठक में मौजूद रहे। हालांकि, इस बैठक में क्या बात हुई इसका अभी खुलासा नहीं हुआ है। 

भारतीय वायुसेना ने Pulwama Terror Attack में शहीद हुए CRPF जवानों की शहादत का बदला लिया। मंगलवार तड़के भारतीय वायुसेना के मिराज 2000 फायटर जेट ने LOC के भीतर 80 किलोमीटर तक अंदर जाकर जैश, लश्कर के लॉन्च पैड तबाह किए। सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान के एफ16 विमानों ने उड़ान तो भरी, लेकिन भारतीय वायुसेना के 12 मिराज 2000 विमानों को देखकर वापस लौट गए।

खबर है कि भारतीय वायुसेना के 12 मिराज 2000 एयरक्राफ्ट ने बालाकोट, चकोटी और मुजफ्फराबाद में बम गिराए। वायुसेना के इस एयरस्ट्राइक में कई आतंकी लॉन्च पैड के ध्वस्त होने की खबर है। खबर यह भी है कि यहां मौजूद जैश का कंट्रोल रूम अल्फा-3 भी नेस्तनाबूद हो गया है। अपुष्ट खबरों के अनुसार पाकिस्तान में भारतीय वायुसेना के इस एयरस्ट्राइक में 200-300 आतंकवादी मारे गए हैं।

जिस बालाकोट को वायुसेना ने निशाना बनाया है उसका इतिहास यह है कि महाराजा रंजीत सिंह ने 1831 में यहां सैयद अहमद को मात दी थी। सैयद अहमद उस समय मौजूदा दौर में तालिबान प्रमुख रहे मुल्ला उमर की तरह था। इस बीत खबर है कि भारतीय सेना ने कच्छ सीमा के पास एक पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया है।

बता दें कि साल 1999 में कारगिल युद्ध में मिराज 2000 विमानों का बड़े स्तर पर इस्तेमाल हुआ था। पिछले 20 साल में मिराज ने किसी कार्रवाई में भाग नहीं लिया और अब पाकिस्तान में घुसकर न सिर्फ सफलतापूर्वक एयरस्ट्राइक को अंजाम दिया, बल्कि सुरक्षित वापस भी लौट आए।

भारत की इस Surgical Strike2 के बाद पाकिस्तान में खलबली मची हुई है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पाकिस्तानी सीमा में भारतीय वायु सेना के Air Strike के बाद आपात बैठक बुलाई। बैठक के बाद पाकिस्तानी विदेशमंत्री ने भारत को गीदड़भभकी भी दी।

भारतीय वायुसेना को अंतरराष्ट्रीय सीमा और एलओसी पर पाकिस्तानी वायुसेना की तरफ से होने वाली किसी भी तरह की बदले की कार्रवाई के लिए हाईअलर्ट पर रखा गया है। 

समाचार एजेंसी एएनआई ने भारतीय वायु सेना के सूत्रों के अनुसार खबर दी है कि भारत ने 26 फरवरी को सुबह साढ़े तीन बजे हमला किया। खबर है कि भारतीय वायु सेना के मिराज 2000 ने एलओसी पार गुलाम कश्मीर में आतंकियों के ठिकानों को निशाना बनाया और पूरी तरह से नेस्तनाबूत कर दिया।

वायुसेना के सूत्रों के अनुसार गुलाम कश्मीर में 1000 किलो बम गिराए। इस स्ट्राइक में 12 मिराज 2000 जेट ने हिस्सा लिया। 

दूसरी तरफ भारत की इस कार्रवाई की तस्दीक सीमा पार से भी हुई है। पाकिस्तान ने भारतीय वायुसेना पर एयर स्पेस के उल्लंघन का आरोप लगाया है।

पाकिस्तान ने आरोप लगाया है कि भारतीय विमानों ने मुजफ्फराबाद सेक्टर में घुसपैठ की है।

पाकिस्तान की तरफ से कार्रवाई हुई तो भारतीय विमानों ने जल्दबाजी में बालाकोट में बम गिरा दिया। पाकिस्तान ने फिलहाल किसी तरह के नुकसान की पुष्टि नहीं की है।


गौरतलब है कि गुरुवार 14 फरवरी को पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन जैश ए मुहम्मद ने Pulwama Terror Attack को अंजाम दिया था। आतंकवादियों की इस कायराना हरकत में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। आतंकवादियों ने CRPF के काफिले को निशाना बनाकर आत्मघाती हमला किया था।

इसके बाद देशभर में गुस्सा है। हर तरफ से पाकिस्तान को सबक सिखाने की मांग उठ रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस आतंकी घटना के बाद सेना को फ्री हैंड देने की बात कही थी। मुश्किल की इस घड़ी में तमाम विपक्षी पार्टियों ने भी सरकार का समर्थन किया था। हमले के कई दिन बाद पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान सामने आए थे और उन्होंने भारत से Pulwama Terror Attack के सुबूत मांगे थे। हालांकि, उन्होंने किसी भी तरह के हमले का पूरी ताकत के साथ जवाब देने की बात कहकर भारत को गीदड़भभकी भी दी थी।

COMMENTS

%d bloggers like this: