WhatsApp ग्रुप और Facebook पर लिखा जिंदगी का आखरी मैसेज, तीन दोस्तों ने कर ली खुदकुशी

हरियाणा।।  व्हाट्सऐप ग्रुप और फेसबुक पेज पर लिखा ‘जिंदगी का आखिरी मैसेज’ और ट्रेन के आगे कूद गए तीन दोस्त। तीनों की दर्दनाक मौत हो गई, वहीं परिवारों में कोहराम मचा है कि उन्होंने ऐसा क्यों किया।

पुलिस के मुताबिक, तीनों युवकों के सोशल मीडिया प्रोफाइल कुछ और ही इशारा कर रहे हैं। तीनों युवकों ने अपना एक फेसबुक पेज ‘यारों का यार’ और व्हाट्सएप ग्रुप ओनली स्टेटस बनाया हुआ था। आत्महत्या करने से पहले इस ग्रुप में मंगलवार रात 11 बजे तीन दोस्तों में से दो दोस्तों अशोक व नवीन ने मैसेज लिखा कि ये उनका आखिरी मैसेज है। इसके बाद दो दोस्तों के फोन बंद हो गए, जबकि तीसरे दोस्त मोनू का फोन सुबह तक बजता रहा।

रेलवे पुलिस अब इस एंगल से भी मामले की जांच में जुट गई है कि आखिर तीनों के बीच आखिरी वक्त में क्या बात चल रही थी और घर से निकलने के बाद वो कहां-कहां गए थे। तीनों युवकों की फेसबुक प्रोफाइल इस बात की आशंका व्यक्त कर रही है कि मोनू और नवीन आत्महत्या के बारे में सोचते थे। दरअसल नवीन की फेसबुक प्रोफाइल में ऐसे कार्टून का फोटो लगा हुआ है जिसने अपनी कनपटी पर पिस्तौल तानी हुई है। वहीं मोनू ने बीते दिन ही अपनी फेसबुक कवर फोटो की जगह पर एक शायरी वाली पोस्ट अपडेट की है जिसके बोल भी कहीं ना कहीं संदिग्ध प्रतीत हो रहे हैं।

एम. नैन नामक आईडी से मोनू ने लिखा कि ‘अगर इतनी ही नफरत है हमसे तो, दिल से दुआ करो कि तुम्हारी दुआ भी पूरी हो जाए और हमारी जिंदगी भी’। 22 अगस्त की सुबह तीनों के शव मिले और 21 अगस्त की सुबह सवा नौ बजे उसने ऐसी पोस्ट शेयर की थी। मोनू, नवीन और अशोक की आपस में काफी गहरी दोस्ती थी, ये बात उनके सोशल मीडिया अकाऊंट्स पर भी झलकती है। तीनों दोस्तों ने अपनी फेसबुक आईडी पर एक-दूसरे की फोटो तो डाल ही रखी हैं, साथ ही यारी-दोस्ती को दिखाते स्टेटस और पोस्ट्स भी डाल रखी हैं।

एक फोटो डाला हुआ है जिसमें लिखा है कोन्या होणा कामयाब एकला, यारां गेल बर्बाद ए ठीक सैं’। इसी तरह इनकी एक और ग्रुप फोटो है जिसपर लिखा गया है कि ‘रे लाडले बदमाशी का शौक कोन्या, भाइयां खातर जान दे भी सकां तो ले भी स्कां हां’। इन पोस्ट्स को देखकर साफ अंदाजा लगाया जा सकता है कि आपसी दोस्ती को तीनों दोस्त बहुत मानते थे। मंगलवार सुबह जिस समय युवकों के शव सबसे पहले देखे गए, उस समय भी तीनों के हाथ एक दूसरे के गले में थे।

जीआरपी थाना प्रभारी, बलवंत सिंह

बताया कि नरवाना के कालवन गांव में बुर्जी नंबर 186 के पास रेलवे लाइन पर बुधवार को तीन शव बरामद हुए मृतकों की पहचान मोनू (18), अशोक (30) और नवीन (19) के शव मिले। तीनों युवकों के परिजनों ने पुलिस को बयान दिए हैं। इनमें किसी प्रकार के व्हाट्सएप ग्रुप या फेसबुक की बात नहीं बताई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

youtube चैनल asalnews को सब्सक्राइब करें बेल आइकन को भी दबाएं

youtube चैनल ann news को सब्सक्राइब करें बेल आइकन को भी दबाएं

youtube चैनल असल आस्था को सब्सक्राइब करें बेल आइकन को भी दबाएं

आप किसी भी राज्य से हमें खबरें भेज सकते हैं खबरें भेजने के लिए हमारी ईमेल ID mail@asalnews.com पर खबरें मेल करें

आप किसी भी राज्य से असल न्यूज़ के साथ काम करना चाहते हैं तो अपना CV हमारी ईमेल ID mail@asalnews.com  मेल करें

आधार कार्ड की कॉपी ,पैन कार्ड की कॉपी, हमें मेल करें अधिक जानकारी के लिए हमारे मोबाइल नंबर:- 9891862889,9811498341 पर संपर्क करें

COMMENTS

%d bloggers like this: