जहांगीरपुरी में पुलिस सुरक्षा के बीच चोरी, पुलिस ने नहीं दर्ज की एफआईआर..

महेंद्रा पार्क थाना एरिया में चोरों का आतंक..

 

पुलिस बैरिकेड के साथ खड़ी कार में भी चोरों ने किया हाथ साफ

दिल्ली।। दिल्ली पुलिस, सदैव आपकी सेवा में तत्पर । पुलिस का ये स्लोगन आपने अक्सर दीवारों पर चस्पा देखा होगा । टीवी चैनलों पर विज्ञापन भी जरूर देखे होंगे । लेकिन दिल्ली पुलिस आम जनता की सेवा में कितनी तत्पर है इसकी बानगी हाल ही में जहांगीरपुरी इलाके में देखने को मिली । जहां शाम के वक्त एक शख्स की गाड़ी से चोरों ने बैटरी उड़ा ली लेकिन पुलिस ने एफआईआर दर्ज नहीं की । मामला जहांगीरपुरी के मंगल बाजार रोड का है ।

जानकारी के मुताबिक पीड़ित प्रदीप उज्जैन 1 दिसंबर की शाम जहांगीरपुरी आए थे । यहां उन्होंने मंगल बाजार रोड के पास कुछ देर के लिए अपनी गाड़ी खड़ी की और कुछ सामान लेने चले गए । लेकिन 10 मिनट के बाद जब प्रदीप वापस आया तो देखा कि गाड़ी की बैटरी चोरी हो गई है । इसमें हैरान करने वाली बात ये थी की जहां उसने गाड़ी खड़ी की उसके पास में पुलिस बैरिकेटिंग लगी थी । जिसके बाद पीड़ित ने 100 नंबर पर कॉल की । जहांगीरपुरी थाने से हेड कांस्टेबल प्रतिमा मौके पर पहुंची लेकिन उन्होंने कहा की ये इलाका जहांगीरपुरी थाने के अंतर्गत नहीं आता । उन्होंने महेंद्र पार्क थाने में मैसेज कर दिया । जिसके बाद पीड़ित के पास महेंद्र पार्क थाने से कांस्टेबल विजय कुमार का फोन आया और उन्होंने खुद मौका ए वारदार पर ना आकर पीड़ित को थाने आने के लिए कहकर फोन काट दिया । पीड़ित प्रदीप महेंद्र पार्क थाने पहुंचे । जहां कांस्टेबल विजय ने एएसआई अशोक से मिलने के लिए कहा । एएसआई अशोक ने गाड़ी के कागजात देखे और पीड़ित को ऑनलाइन एफआईआर करने की बाद कहने लगे । जिसके बाद प्रदीप उज्जैन ने इस बात का विरोध करते हुए थाने में ही एफआईआर दर्ज करने के लिए कहा लेकिन एएसआई अशोक ऑनलाइन एफआईआर दर्ज करने पर अडे रहे और पीड़ित की एफआईआर थाने में दर्ज नहीं ।

पुलिस का ऐसा उदासीन और मनमाना रवैया तब सामने आया जबकि इस इलाके में गाड़ी की बैटरी और टायरों का चोरी होने आम बात है । जानकारी के मुताबिक बीते दिनों लोगों ने एक चोर को पकड़ा भी था लेकिन सूत्रों के मुताबिक पुलिस ने बिना कोई कार्रवाई करे उसे छोड़ दिया ।

COMMENTS

%d bloggers like this: