करनाल नगर निगम में समाधान मात्र तीन घण्टे में टोल फ्री जारी

करनाल 18 दिसंबर !!अब शहर में किसी भी जगह पर पड़े कूड़े या गंदगी का समाधान मात्र तीन घण्टे में ही किया जाएगा। इसके लिए नगर निगम ने युवा सफाई कर्ताओं की स्वच्छता ब्रिगेड तैयार की है, जिसने अपना कार्य शुरू कर दिया है। कोई भी नागरिक ऐसी समस्या के त्वरित समाधान के लिए नगर निगम के टोल फ्री नम्बर 1800 180 2700 तथा व्हाट्सएप नम्बर 80536-30000 पर सूचना दे सकता है। इसके अतिरिक्त ऐसी समस्या को लेकर नागरिक अपनी शिकायत को नगर निगम के फेसबुक पेज पर मैसेज करके भी उसका समाधान करवा सकते हैं। नगर की महापौर श्रीमती रेनू बाला गुप्ता व आयुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने नगर निगम कार्यालय से आज स्वच्छता ब्रिगेड को हरी झण्ड़ी दिखाई। मौके पर सीनियर डिप्टी मेयर कृष्ण गर्ग, डी.एम.सी. रोहताश बिशनोई, ई.ओ. धीरज कुमार के अतिरिक्त निगम पार्षद शीला रानी, वीर विक्रम सिंह, अशौक जैन, समाजसेवी बलवीर सिंह व रोहताश लाठर व ईश गुलाटी भी उपस्थित थे।
इस अवसर पर आयुक्त ने बताया कि नगर निगम स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 को लेकर सम्पूर्ण स्वच्छता के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए प्रयासरत है। उन्होने बताया कि स्वच्छता ब्रिगेड में करीब 32 सफाईकर्ता हैं, जो दो अलग-अलग शिफ्टों में कार्य करेंगी। पहली शिफ्ट प्रात: 7 बजे से बाद दोपहर 2 बजे तक और दूसरी शिफ्ट बाद दोपहर 2 बजे से रात्रि 9 बजे तक की है। निगम द्वारा रात्रि 9 बजे से देर रात 2 बजे तक की गई नाईट स्वीपिंग की व्यवस्था पूर्ववत ही बनी हुई है। नए नम्बरों की सुविधा से शहर की साफ-सफाई को लेकर नागरिक सहभागिता को ओर बल मिलेगा, लोगों में जागरूकता बढेगी और कूड़े या गंदगी का समाधान निश्चित व अल्पअवधि में सुनिश्चित होगा।
 आयुक्त ने आगे बताया कि इसके  अतिरिक्त नागरिकों के लिए शहरी विकास मंत्रालय, भारत सरकार की स्वच्छता एप की सुविधा भी जारी है। शहर में कहीं भी पड़ी गंदगी को साफ करवाने के लिए नागरिक उसकी फोटो लेकर एप के माध्यम से भेजते हैं और निश्चित अवधि में उसका समाधान किया जा रहा है। उन्होने बताया कि स्वच्छता एप के माध्यम से प्राप्त शिकायतों और उनके समाधान को लेकर करनाल, राष्ट्रीय स्तर पर टॉप 20 में अपना स्थान बनाए हुए है। उन्होने बताया कि इस अवधि तक स्वच्छता एप के माध्यम से कुल 21274 शिकायतें आई। इनमें से 21091 का निश्चित अवधि में समाधान किया गया, जबकि 183 शिकायतें फर्जी या सही नहीं पाए जाने के कारण रिजेक्ट की गई। उन्होने बताया कि इससे पहले करनाल टॉप 10 में भी अपना स्थान हासिल कर चुका है। उन्होने आशा जताई कि निगम द्वारा किए जा रहे उपायों से उम्मीद है कि हम अगले कुछ दिनों में पुन: टॉप 10 में अपना स्थान हासिल कर पाएंगे।

COMMENTS

%d bloggers like this: