ट्रेन हादसा: ट्रेन के इंजन की चपेट में आने से छह की मौत!

ट्रेन के ट्रैक पर टहलना पड़ा दोस्तों को भारी, ट्रेन से कटकर 6 की मौत-1 गंभीर!

उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ के पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र में 7 लोग ट्रेन की चपेट में आ गए, जिनमें से 6 लोगों की मौत हो चुकी है और एक गंभीर रूप से घायल है। पुलिस ने मृतकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

पद्मावत एक्सप्रेस से हुआ यह घटना.

जानकारी के अनुसार, दिल्ली से चलकर फ़ैजाबाद जाने वाली पद्मावत एक्सप्रेस पिलखुवा में रात साढ़े नौ बजे के करीब कुछ देर के लिए रूकी. इस दौरान कुछ दैनिक यात्री ट्रेन से उतर कर पटरी पार करने लगे तभी दूसरी तरफ आ रही एक एक्सप्रेस रेलगाड़ी की चपेट में आ गए.

डीएम और एसपी पहुंचे घटनास्थल पर.

डीएम और एसपी सहित भारी पुलिस बल घटनास्थल पर पहुंच गया। पिलखुवा नगर के सद्दीकपुरा निवासी समीर, सलीम व आरिफ और सर्वोदय नगर निवासी विजय व आकाश पुताई का काम करते हैं।

रविवार को उक्त पांचों समेत सात युवकों को हैदराबाद में काम करने के लिए जाना था। सुबह सभी युवक सदस्य गाजियाबाद पहुंचे, लेकिन उनकी ट्रेन छूट गई और वे सभी लोग वापस पिलखुवा वापस आ गए। रात करीब पौने नौ बजे कस्बे के गांधी फाटक के पास सभी युवक पटरियों पर टहल रहे थे। इसी दौरान दिल्ली-मुरादाबाद रेलवे ट्रैक पर दिल्ली की ओर से एक तेज रफ्तार इंजन आया। सातों युवक इंजन की चपेट में आ गए। इनमें आकाश, राहुल, सलीम, समीर व आरिफ सहित एक अन्य युवक की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया। मौके पर एकत्र हुए स्थानीय लोगों ने घायल को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

पुलिस ने घायलों को आनन-फानन अस्पताल में भर्ती कराया.

पुलिस ने घायलों को आनन-फानन अस्पताल में भर्ती कराया. मृतकों में आर्यनगर पिलखुवा निवासी विजय, सर्वोदय कॉलोनी निवासी आकाश, सदीकपुरा निवासी समीर, आरिफ और सलीम शामिल हैं. मृतकों की उम्र 14 और 16 वर्ष के बीच है. सातों दोस्त शादी में खाना बनाने का काम करते थे. पुलिस अधीक्षक राम मोहन सिंह भी मौके पर पहुंचे और घटनाक्रम की जानकारी ली.

COMMENTS

%d bloggers like this: