मैट्रो में सफर…..जरा, संभलकर

मैट्रो में सफर…..जरा, संभलकर

फाइल

asalnews.com [ब्यूरो]

दिल्ली। दिल्ली की लाईफलाईन कही जाने वाली मैट्रो रेल की यात्रा का अहसास हमेशा सुखद नहीं होता है। यात्रियों को अब बसों के जैसे हालात का सामना करना पड़ रहा है। जेबतराशी की घटनाओं में खूब इजाफा हो रहा है तो बदमाश यात्रियों को चूना लगाने की और विधाओं में भी हाथ आजमा रहे हैं। ऐसे ही एक मामले में एक यात्री के सामान की चेकिंग के दौरान पौने सात लाख रुपये मूल्य के गहनों से भरा बैग गायब हो गया। हालांकि पुलिस ने इस मामले को सुलझा लिया है।
     सात नवंबर का दिन पीतमपुरा के रहने वाले अजित नथानी को लंबे समय तक सिहराता रहेगा। उस दिन वह चांदनी चैक मैट्रो स्टेशन से पीतमपुरा जाने के लिए निकले थे। उनके पास चैदह गहनों से भरा बैग भी था। हीरे और सोने से निर्मित इन गहनों की कीमत पौने सात लाख रुपये है। नथानी ने अपने बैग को चेकिंग प्रक्रिया से गुजारने के लिए जब एक्स बिस मशीन में डाला तो उसके खुद के इसे रिसवी करने से पहले ही किसी ने इसे पार कर दिया।
     चोरी के इस मामले की रपट कश्मीरी गेट मैट्रो पुलिस थाने में दर्ज की गई। पुलिस जांच के दौरान चांदनी चैक के अलावा आस-पास के मैट्रो स्टेशनों की सीसीटीवी फुटेज भी चोर की तलाश में खंगाली गईं। जांच प्रक्रिया में संदिग्ध मिले एक व्यक्ति के फोटो जगह-जगह सर्कुलेट किये गये। इसी क्रम में उसकी पहचान ब्रिजेश निवासी सरदारपुर, खजूरी काॅलोनी, सेक्टर-45, नौएडा के रूप में हुई।
      सोलह नवंबर को मामले के जांच अधिकारी हवलदार रमेश को सूचना मिली कि संदिग्ध अपने घर में आएगा। इस सूचना के आधार पर ब्रिजेश को गिरफ्तार करने के लिए एसीपी आरके भारद्वाज के निर्देशन और एसएचओ केएल मीना के नेतृत्व में एक पुलिस टीम का गठन किया गया। गठित टीम ने जाल बिछाकर ब्रिजेश को गिरफ्तार कर लिया। उसकी निशानदेही पर चोरी का सारा सामान भी बरामद हो गया।

COMMENTS

%d bloggers like this: