Home Delhi JEE Mains Result 2021: कौन हैं काव्या चोपड़ा, जिन्होनें जेईई मेन परीक्षा...

JEE Mains Result 2021: कौन हैं काव्या चोपड़ा, जिन्होनें जेईई मेन परीक्षा में 300/300 अंक हासिल कर रचा इतिहास

619
0

असल न्यूज़: जेईई मेन परीक्षा का रिजल्ट बुधवार को जारी कर दिया गया. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने बुधवार देर रात रिजल्ट की घोषणा की है.

मार्च सत्र के लिए जारी किए गए इस रिजल्ट में 13 छात्रों ने 100 पर्सेंटाइल हासिल किए हैं. मार्च सत्र के तहत 6,19,368 परीक्षार्थियों ने परीक्षा में भाग लिया था.

इस परीक्षा में 300/300 अंक हासिल करके दिल्ली की काव्या चोपड़ा ने इतिहास रच दिया है. काव्या पहली महिला हैं, जिन्होंने इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा (JEE) में 100 पर्सेंटाइल हासिल किए हैं.

कैसी थी काव्या की पढ़ाई की योजना

JEE Main परीक्षा में 100 पर्सेंटाइल हासिल करने वाली छात्रा काव्या चोपड़ा ने परीक्षा को लेकर अपनी योजना के बारे में बताते हुए कहा कि उन्होंने मार्च सत्र में परीक्षा देने से पहले फरवरी सत्र में भी JEE Main की परीक्षा दी थी.

इस परीक्षा में उन्होंने 99.97 पर्सेंटाइल हासिल किए थे. जबकि उनका लक्ष्य था कि वे प्रवेश परीक्षा में 99.98 पर्सेंटाइल हासिल करें. इसे ध्यान में रखते हुए काव्या ने मार्च सत्र में दोबारा प्रवेश परीक्षा दी.

इस बार मार्च सत्र में उन्होंने परीक्षा में 100 पर्सेंटाइल यानी 300/300 अंक हासिल किए हैं और JEE Main Exam में 100 पर्सेंटाइल हासिल करने वाली पहली महिला बन गई हैं.

काव्या ने अपनी पढ़ाई की योजना साझा करते हुए बताया कि मैंने फरवरी सत्र में फिजिक्स और केमिस्ट्री विषयों पर अधिक ध्यान केंद्रित किया था, इसके बावजूद मेरे केमिस्ट्री में नंबर कम आए.

फरवरी सत्र में 99.97 पर्सेंटाइल स्कोर करने के बाद मैंने उन बिन्दुओं पर अधिक ध्यान देने का प्रयास किया कि मुझसे कहां पर गलती हुई है, जिस कारण मुझे कम अंक मिले हैं.

इसके बाद मैंने 15 दिनों तक अपना पूरा ध्यान केमिस्ट्री विषय पर लगाया और उन टॉपिक्स पर अधिक ध्यान केंद्रित किया, जिन पर मेरी पकड़ कमजोर थी.

कई ओलंपियाड क्वालीफाई कर चुकी हैं काव्याJEE Main परीक्षा में 100 पर्सेंटाइल हासिल कर इतिहास रचने वाली काव्या ने दसवीं कक्षा में 97.6 प्रतिशत अंक हासिल किए थे.
काव्या काफी छोटी उम्र से ही ओलंपियाड प्रतियोगिताओं में भाग ले रही हैं. उन्होंने न

वीं कक्षा में ही रीजनल मैथ्स ओलंपियाड (RMO) क्वालीफाई कर लिया था.

इसके बाद उन्होंने दसवीं कक्षा में इंडियन जूनियर साइंस ओलंपियाड (INJSO) भी क्वालीफाई किया था, जिसके बाद उन्हें जहांगीर भाभा सेंटर, मुंबई में आयोजित एक कैंप में हिस्सा लेने का भी मौका मिला था.

काव्या ग्यारहवीं कक्षा में नेशनल स्टैंडर्ड एग्जामिनेशन इन एस्ट्रोनॉमी (NSEA) भी पास कर चुकी हैं. इसके अलावा काव्या IQP, IQC और IQM भी क्वालीफाई कर चुकी हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here