Home Delhi COVID-19: दिल्ली में बेकाबू हो रहा कोरोना, पहली बार 17 हजार से...

COVID-19: दिल्ली में बेकाबू हो रहा कोरोना, पहली बार 17 हजार से अधिक नए केस

271
0

असल न्यूज़: दिल्ली में दिन-प्रतिदिन विकराल रूप धारण कर रही कोरोना महामारी ने अब डराना शुरू कर दिया है। संक्रमण बेकाबू होने के बाद दिल्ली में बुधवार को पहली बार सभी रिकॉर्ड तोड़ते हुए कोरोना के 17000 से अधिक नए पॉजिटिव केस आने से सरकार की टेंशन और बढ़ गई है। अब संक्रमितों का कुल आंकड़ा बढ़कर 7.67 लाख के पार पहुंच गया है।

इसके साथ ही अब पॉजिटिविटी रेट भी 15.92 फीसदी पर आ गया है। कोरोना संक्रमण से आज 100 से अधिक मरीजों की मौत भी हो गई। हालात को देखते हुए अब लॉकडाउन ही इससे निपटने का आखिरी ऑप्शन नजर आ रहा है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से बुधवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, बीते 24 घंटे में जहां कोरोना के 17,282 नए मरीज मिले हैं, वहीं 104 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों का कुल आंकड़ा बढ़कर 11,540 पर पहुंच गया है। मंगलवार को 13,468 मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई थी।

बुलेटिन के अनुसार, बुधवार को 9952 मरीज पूरी तरह ठीक होकर कोरोना मुक्त हो गए, जबकि मंगलवार को यह संख्या 7972 थी। स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि दिल्ली में अब तक संक्रमितों की कुल संख्या 7,67,438 हो गई है और 24,155 मरीज होम आइसोलेशन में हैं।

राजधानी में अब कोरोना वायरस संक्रमण के एक्टिव केस भी बढ़कर 50,736 हो गए हैं। वहीं, अब तक कुल 7,05,162 मरीज इस महामारी को मात देकर कोरोना मुक्त हो चुके हैं। इसके साथ ही अब तक मरने वालों की संख्या 11,540 हो गई है।

मंगलवार को 13,468, सोमवार को 11,491, रविवार को 10,774, शनिवार को 7,897 और शुक्रवार को 8,521 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई थी।

बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में अप्रत्याशित वृद्धि के बीच वेंटिलेटर सहित कोविड-19 आईसीयू बेड्स की सुविधा वाले 94 में से 69 अस्पतालों में इस प्रकार के सारे बेड्स भर गए हैं और केवल 79 बेड्स ही खाली हैं। एक आधिकारिक ऐप में दिए गए आंकड़ों में बुधवार को यह जानकारी सामने आई।

दिल्ली कोरोना ऐप के अनुसार, दोपहर दो बजे तक 110 अस्पतालों में से 75 में बिना वेंटिलेटर वाले सभी कोविड-19 आईसीयू बेड्स भरे थे। वेंटिलेटर वाले 1,177 कोविड-19 आईसीयू बेड्स में से केवल 79 खाली थे, जबकि बिना वेंटिलेटर के 2,130 कोविड आईसीयू बेड्स में से 348 खाली थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here