Home Delhi Delhi Metro के कई स्टेशन अस्थाई रूप से किए गए बंद, पीक...

Delhi Metro के कई स्टेशन अस्थाई रूप से किए गए बंद, पीक आवर में आ रही परेशानी; ये रही लिस्ट

638
0

असल न्यूज़: कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते प्रभाव और खतरे के मद्देनजर दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail Corporation) ने कड़े कदम उठाए हैं। खासकर दिल्ली मेट्रो में यात्रा के दौरान लोगों से शारीरिक दूरी के नियमों का पालन तो करवाया ही जा रहा है, इसके साथ ही मास्क नहीं लगाने पर 200 रुपये का चालान भी किया जा रहा है। सख्ती की कड़ी में शुक्रवार सुबह भी दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने स्टेशनों और ट्रेनों में यात्रा के दौरान शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करने के लिए शाहदरा मेट्रो स्टेशन और दिलशाद गार्डन मेट्रो स्टेशन एंट्री गेट को बंद कर दिया, वहीं इन स्टेशनों के एग्जिट गेट खुले रहे और लोग यहां से बाहर निकले। हालांकि, कुछ देर बाद ही दोनों ही मेट्रो स्टेशनों पर हालात सामान्य होते ही एंट्री गेट भी खोल दिए गए हैं।

दिल्ली मेट्रो से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली मेट्रो में यात्रा के दौरान पीक आवर में ऐसा हो रहा है। दरअसल, भीड़ जब ज्यादा हो जाती है तो शारीरिक दूरी के नियम टूटने लगते हैं। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते भीड़भाड़ वाले मेट्रो स्टेशनों पर तत्काल एंट्री गेट बंद कर दिए जाते हैं और हालात सामान्य होते ही एंट्री गेट खोल दिए जाते हैं। 

फिलहाल ये स्टेशन रहे थोड़ी देर के लिए बंद

  • शाहदरा मेट्रो स्टेशन (Shahdara Metro Station)
  • दिलशाद गार्डन मेट्रो स्टेशन (Dilshad Garden Metro Station)
  • मोहन नगर मेट्रो स्टेशन (Mohan Nagar Metro Station)
  • शास्त्री पार्ट मेट्रो स्टेशन (Shastri Park Metro Station)
  • सीलमपुर मेट्रो स्टेशन (Seelampur Metro Station)
  • झिलमिल मेट्रो स्टेशन (Jhilmil Metro Station)

पिछल कई दिनों से प्लेटफॉर्म और ट्रेनों में शारीरिक दूरी के नियम का पालन कराने के लिए साकेत डीएमआरसी लगातार कुतुब मीनार, कश्मीरी गेट, शास्त्री पार्क, नई दिल्ली, चावड़ी बाजार और सीलमपुर स्टेशन पर एंट्री गेट को अस्थाई रूप से बंद करा रहा है, हालांकि इन स्टेशनों के एग्जिट गेट खुले रहते हैं और लोग यहां से बाहर निकल सकते हैं।

दिल्ली मेट्रो के अधिकारियों का कहना है कि भीड़ के मद्देनजर शारीरिक दूरी का पालन कराने के लिए मेट्रो स्टेशन के एंट्री गेट को बंद करनी की प्रक्रिया जा रही है। ऐसा पीक आवर में ही करना पड़ रहा है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here