Home Health How To Improve Oxygen Level: घर बैठे इन 5 तरीकों से बढ़ाएंं...

How To Improve Oxygen Level: घर बैठे इन 5 तरीकों से बढ़ाएंं अपना ऑक्सीजन लेवल

322
0

असल न्यूज़: देश में कोरोना की भयावह स्थिति बनी हुई है और अस्पतालों की स्थिति भी बेहद खराब हो चुकी है। कोविड के बीच अब ऑक्सीजन के संकट से भी लोग बुरी तरह जूझ रहे हैं। ऐसे में हम आपको कुछ घर बैठे ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के आसान तरीके बता रहे है।

कोरोना वायरस महामारी ने भारत में एक बार फिर खतरनाक रूप ले लिया है। दिन व दिन बढ़ते संक्रमित मरीजों की संख्या के चलते अब अस्पताल में न तो बेड्स खाली हैं और न ही दवाइयां हैं। सबसे बड़ी बात ये है अब अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी के चलते कोविड मरीजों की जान जा रही है। हर रोज कई मरीज ऑक्सीजन की कमी के चलते दम तोड़ रहे हैं। केंद्र सरकार इस चुनौती का सामना करने की लगातार कोशिश कर रही है लेकिन संकट से अभी तक उबर नहीं पाई। लिहाजा अब डॉक्टर भी सामान्य मरीजों को ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने को लेकर होम थेरेपी की सलाह दे रहे हैं।

हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ मंत्रालय ने भी घर पर रहकर ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के तरीके बताए हैं। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी लोगों को पेट के बल लेटकर अपने ऑक्सीजन लेवल को बढ़ाने की सलाह दे चुके हैं। बहरहाल, यहां हम आपको कुछ आसान ट्रिक्स बता रहे हैं जिनके जरिए आप घर बैठे ऑक्सीजन लेवल (Oxygen Level) इंप्रूव कर सकते हैं।

how to improve oxygen levels with covid: How To Improve Oxygen Level: घर  बैठे इन 5 तरीकों से बढ़ाएंं अपना ऑक्सीजन लेवल, नहीं पड़ेगी अस्‍पताल जाने की  जरूरत - easy tricks to

​डाइट में लाएं बदलाव
शोध में पाया गया है कि आंत में मौजूद माइक्रोबायोटा कई तरह के बैक्टीरियल संक्रमण से हमारी रक्षा करता है। एंटीऑक्सीडेंट पाचन में हमारी ऑक्सीजन की मात्रा को बढ़ाता है। शरीर में एंटीऑक्सिडेंट की मात्रा बढ़ाने के लिए हमें ब्लूबेरी, क्रैनबेरी, रेड किडनी बीन्स, आटिचोक दिल, स्ट्रॉबेरी, प्लम और ब्लैकबेरी जैसे खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। इनके अलावा शरीर के लिए जरूरी प्रोटीन विटामिन एफ की मात्रा बढ़ाने के लिए हमें एसिड सोयाबीन, अखरोट और फ्लैक्ससीड्स का सेवन करना जरूरी है जो रक्तप्रवाह में हीमोग्लोबिन (Haemoglobin) की मात्रा बढ़ाने के लिए काम करते हैं। बेहतर होगा आप जंक फूड, सिगरेट, तंबाकू का सेवन बंद कर दें।

​हेल्दी लाइफ की कुंजी है वर्कआउट

घर पर रहकर भी कर सकते हैं जिम की तरह वर्कआउट, जानिए कैसे


अगर आप अपने डेली रुटीन को हेल्दी खान-पान के अलावा वर्कआउट को भी शामिल करते हैं तब आप सेहतमंद रहेंगे और आपके ऑक्सीजन लेवल में भी सुधार होगा। एरोबिक व्यायाम और सिंपल वॉक के जरिए आप अपने ऑक्सीजन लेवल को इंप्रूव कर सकते हैं। जैसा कि अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन (American Heart Association) ने भी लोगों को हर रोज 30 मिनट वॉक करने की सलाह दी है। AHA के अनुसार, हर रोज 30 मिनट की वॉक सप्ताह में 2 से घंटे जिम में वर्कआउट करने से ज्यादा प्रभावी है। टहलने से न सिर्फ आपको शारीरिक लाभ मिलेगा बल्कि इससे आपका मूड भी हल्का रहेागा और आत्मविश्वास भी बढ़ेगा। वॉक से तनाव को भी कम किया जा सकता है।

​सांसों को बदलें

how to improve oxygen levels with covid: How To Improve Oxygen Level: घर  बैठे इन 5 तरीकों से बढ़ाएंं अपना ऑक्सीजन लेवल, नहीं पड़ेगी अस्‍पताल जाने की  जरूरत - easy tricks to


नियमित रूप से फेफड़ों का व्यायाम (Lungs Exercies) करना श्वसन स्वास्थ्य (Respiratory health) को बनाए रखने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। हालांकि कई लोगों को ब्रीदिंग एक्सरसाइज करते वक्त काफी परेशानी होती है। यह हाल ही में पता चला है कि कुछ बीमार लोग ऊपरी छाती (Upper chest) और ज्यादा हवा का प्रयोग कर सांस लेते थे जिससे शरीर में ऑक्सीजन का स्तर कम हो जाता है। जबकि इसके विपरीत ब्रीदिंग एक्सरसाइज का सही तरीका है। सबसे पहले धीमे से डायफ्राम के साथ सांस लें और फिर नासिका से सांस छोड़ें। बता दें कि जब हम नाक से सांस लेते हैं, तो सांस की धीमी गति के कारण हमारे फेफड़े अधिक मात्रा में आक्सीजन अवशोषित करते हैं। इससे ऑक्सीजन लेवल में सुधार आता है।

​लेटकर ब्रीदिंग एक्सरसाइज

How to do Diaphragmatic breathing lying down - YouTube


ऑक्सीजन लेवल के सुधार करने के लिए आप बैठने के अलावा आप लेटकर भी कर सकते हैं। सबसे पहले अपना एक हाथ पेट के ऊपर और दूसरा अपनी छाती पर रखें। फर्श पर लेट जाएं और अपने पैरों को कुर्सी पर रखें। गहरी सांस लें और तब तक रोकें जब तक कि पेट हवा से भर न जाए और फिर धीरे से सांसों को छोड़े। इस क्रिया को दिन में दो बार दोहराएं।

​प्रोन पोजिशन

Anatomical Position: Definitions and Illustrations


स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक प्रोनिंग की जरूरत उस समय पड़ती है जब रोगी को सांस लेने में दिक्कत हो रही हो और शरीर में ऑक्सीजन का स्तर 94 के नीचे चला जाए। प्रोन पॉजिशन के जरिए कई जीवन बचाए जा सकते हैं। हाल ही में हेल्थ मिनिस्ट्री ने प्रोनिंग को लेकर कुछ और चेतावनी भी जारी की है। प्रोनिंग को लेकर सरकार द्वारा जारी की गई एडवाइजरी में खाना खाने के बाद एक घंटे तक इस क्रिया को नहीं करना है, इसे तभी जब आपकी बॉडी को आसानी हो। इसके अलावा गर्भावस्था होने की स्थिति या हृदयघात की स्थिति में इस क्रिया को न करें। यह क्रिया पेट के बल लेटकर करनी होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here