Home Crime वृंदावन के निधिवन का VIDEO सोशल मीडिया पर डालना पड़ा भारी, ...

वृंदावन के निधिवन का VIDEO सोशल मीडिया पर डालना पड़ा भारी, यूट्यूबर गिरफ्तार

98
0

असल न्यूज़: वृंदावन की कहानी को लेकर आए दिन नए नए खुलासे होते रहते है वही वृंदावन पुलिस के मुताबिक गौरव को जब पता चला कि वृंदावन के निधिवन में रात में कोई प्रवेश नहीं कर पाता है और जो प्रवेश करता है उसके साथ कुछ अनहोनी हो जाती है तो उसके दिमाग में रात में निधिवन का वीडियो बनाने का आइडिया आया था.

यूपी के मथुरा में वीडियो बनाने वाले एक यूट्यूबर को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. वृंदावन कोतवाली पुलिस ने ठाकुर बांकेबिहारी के निधिवन में आधी रात को वीडियो बनाने के मामले में यूट्यूबर को गिरफ्तार किया है. ये शख्स अलीगढ़ का रहने वाला है और उसे दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है. उसने निधिवन की मान्यता के खिलाफ वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया था. यूट्यूबर समेत चार आरोपियों के खिलाफ वृंदावन कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था. तीन अन्य आरोपियों की तलाश भी जारी है.

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी का नाम गौरव शर्मा है. वह मूलरूप से अलीगढ़ जिले का रहने वाला है और यूट्यूब पर चैनल चलाता है. उसको दिल्ली के थाना मालवीय नगर से गिरफ्तार किया गया है. पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह पिछले पांच साल से यूट्यूब चैनल चला रहा है. ये शख्स वीडियो अपलोड कर प्रतिमाह 50–60 हजार रुपये कमाता है.

छह नवंबर की रात में घुसे थे निधिवन में
पुलिस के मुताबिक छह नवंबर को गौरव अपने चाचा राजकुमार निवासी लाजपत नगर महोली रोड मथुरा के घर आया था. यहां चाचा के पुत्र प्रशांत उर्फ छोटू व उसके दोस्त मोहित, अभिषेक व एक अन्य मिला. प्रशांत ने उसे बताया कि वृंदावन के निधिवन में रात में कोई प्रवेश नहीं कर पाता है, जो प्रवेश करता है उसके साथ कुछ अनहोनी हो जाती है. इस पर उसके दिमाग में निधिवन का वीडियो बनाने का आइडिया आया.

गौरव अपने चचेरे भाई प्रशांत व उसके दोस्त मोहित, अभिषेक व एक अन्य के साथ कार से निधिवन रात को 12 बजे आया था. गौरव, प्रशांत और मोहित निधिवन की दीवार कूदकर अंदर प्रवेश कर गए थे. उसने अपने मोबाइल से वीडियो बनाया था. अभिषेक व एक अन्य लड़का बाहर गाड़ी में ही बैठे रहे थे. करीब 15–20 मिनट बाद दोनों निधिवन से वापस निकल आए थे.

9 नवंबर को किया था अपलोड
नौ नवंबर को गौरव ने इस वीडियो को अपने यूट्यूब चैनल पर अपलोड कर दिया. जब उसे पता चला कि उक्त मामले में एफआईआर हो गई है तो उक्त वीडियो यूट्यूब चैनल से हटा दिया. हालांकि इससे पहले ही यह वीडियो यह सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. आरोपी के खिलाफ थाना वृंदावन में धारा 295ए व आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया था. पुलिस ने रविवार को उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here