Home Delhi शराब के नशे में धुत कार सवार ने मां-बेटी को रौंदा, खून...

शराब के नशे में धुत कार सवार ने मां-बेटी को रौंदा, खून से सन गई सौ मीटर सड़क

151
0

उत्तरी दिल्ली के वजीराबाद इलाके में सोमवार दोपहर नशे में धुत कार सवार दंपती ने सड़क पर परिवार के साथ खड़ी मां-बेटी को रौंद डाला। टक्कर मारने के बाद भी आरोपी ने कार नहीं रोकी। एक महिला कार में फंस गई, जिसे आरोपी करीब 100 मीटर दूर घसीटकर ले गया। शोर मचाने पर किसी तरह आरोपी ने कार रोकी।

हादसे के बाद घायल उर्मिला (45) और इसकी बेटी पायल (23) को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां पायल को मृत घोषित कर दिया गया। वहीं उर्मिला की हालत नाजुक बनी हुई है। हादसे के बाद भीड़ ने आरोपी को मौके पर पकड़ लिया। बाद में उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

पुलिस का रवैया देखकर मौके पर भीड़ नाराज हो गई। आरोपी दंपती को थाने लाया गया। पुलिस ने मामले को बेहद गंभीरता से लेते हुए हादसे में गैर इरादतन हत्या (304) की धारा जोड़ी है। आरोपी जगतपुर निवासी जितेंद्र (32) को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसकी कार को कब्जे में ले लिया गया है। मेडिकल में जितेंद्र के शराब पीने की पुष्टि हुई है।
पुलिस के मुताबिक पायल अपने परिवार के साथ दक्षिण दिल्ली के छतरपुर इलाके में रहती थी। करीब डेढ़ साल पूर्व इसकी शादी रोहित चौटाला नामक युवक से हुई थी। रोहित प्राइवेट नौकरी करता है। रविवार को पायल की चचेरी बहन की शादी थी। परिवार गली नंबर-3, काली घाट, वजीराबाद में रहता है। पायल भी अपने पूरे परिवार के साथ आई हुई थी। सुबह करीब 11 बजे पायल पति व परिवार के बाकी सदस्यों के साथ घर जाने के लिए निकली। इस बीच वह अपनी मां उर्मिला व परिवार के बाकी सदस्यों के साथ गली के बाहर आकर खड़ी हो गई। पायल का पति रोहित नजदीक से ऑटो लेने चला गया। इस दौरान पुश्ते की ओर से आई स्विफ्ट डिजायर कार ने पायल व उसकी मां उर्मिला को रौंद डाला।
टक्कर लगने के बाद उर्मिला तो एक ओर गिर गई, लेकिन पायल आरोपी की कार में फंस गई। आरोपी करीब 100 मीटर दूर तक पायल को घसीटता हुआ ले गया। लोगों ने शोर मचाया तो आरोपी ने किसी तरह गाड़ी रोकी। परिजन दौड़कर वहां पहुंचे तो पायल खून से लथपथ अचेत हो चुकी थी, मामले की सूचना पुलिस को दी गई। इस बीच आरोपी को पकड़ लिया।
आरोपी कार चालक जगतपुर गांव के किसी दबंग परिवार का सदस्य है। उसे पुलिस के हवाले किया गया तो भीड़ को लगा कि पुलिस उसे छोड़ देगी। घटना स्थल पर पहले खूब हंगामा, शोर शराबा हुआ। पुलिस आरोपी जितेंद्र और उसके साथ मौजूद महिला को वजीराबाद थाने लाई तो भीड़ वहां भी पहुंच गई। बाद में थाने के वरिष्ठ अधिकारियों ने आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया तो लोग वापस लौटे।
शादी वाले घर में मातम का माहौल…
पायल की बहन आंचल ने रोते हुए बताया कि रविवार को उनकी चचेरी बहन की शादी थी। दीदी परिवार के साथ यहां आई थी। उसके जीजा ने शादी के बाद सोमवार को घर जाने के लिए कहा था। परिवार पायल को छोड़ने गली के बाहर आया हुआ था। इस दौरान अचानक बीच सड़क से चलती हुई गाड़ी ने उसकी मां व बहन को उड़ा दिया। आंचल ने बताया कि यदि आरोपी गाड़ी रोक लेता तो शायद उसकी दीदी की जान बच सकती थी। अब परिवार उर्मिला के जल्द ठीक होने की कामना कर रहा है। पुलिस ने पायल का शव पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेज दिया है।
आरोपी बुरी तरह था शराब के नशे में, पायल को 100 मीटर घसीटा…
हादसे के बाद जब आरोपी जितेंद्र को गाड़ी से उतारा गया तो वह ठीक से खड़ा भी नहीं हो पा रहा था। इसके अलावा यदि वह गाड़ी टक्कर मारने के बाद रोक भी देता तो शायद पायल को इतनी चोट नहीं लगती। वहीं आरोपी की टक्कर लगने से उर्मिला काफी दूर जा गिरीं, वह भी अचेत हो गई। पुलिस सूत्रों का कहना है कि आमूमन सड़क हादसों में लापरवाही से वाहन चलाने का मामला दर्ज किया जाता है, लेकिन इस मामले में आरोपी नशे में था। इसलिए इस संबंध में गैर इरातन हत्या का मामला दर्ज किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here