Home Delhi बिहार-UP से दिल्ली-NCR पहुंची ‘अग्निपथ’ की आग, गुरुग्राम में धारा 144 लागु

बिहार-UP से दिल्ली-NCR पहुंची ‘अग्निपथ’ की आग, गुरुग्राम में धारा 144 लागु

218
0

दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा सेना में भर्ती के लिए लाई गई नवीनतम अग्निपथ योजना के खिलाफ तीसरे दिन भी बिहार, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में प्रदर्शन जारी है. अग्निपथ की आग बिहार, उत्तर प्रदेश , मध्य प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिम बंगाल और तेलंगाना समेत सात राज्यों तक पहुंच गई है. इसके साथ ही ये आंदोलन अब हिंसक हो गया है. तेलंगाना के सिकंदराबाद में भड़की हिंसा में एक शख्स की गोली लगने से मौत हो गई है, जबकि 15 लोग घायल हुए हैं. युवाओं का सबसे ज्यादा उग्र प्रदर्शन बिहार और उत्तर प्रदेश में देखने को मिल रहा है. बिहार के बेतिया में प्रदर्शनकारियों ने राज्य की उप मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता रेणु देवी और राज्य बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल के घर पर हमला बोल दिया है. प्रदर्शनकारी अग्निपथ योजना में बदलाव किए जाने के बाद भी बहाली की पुरानी पद्धति को लागू करने की मांग कर रहे हैं.

आंदोलनकारी युवा बिहार के बक्सर, समस्तीपुर, सुपौल, लखीसराय और मुंगेर और उत्तर प्रदेश के बलिया, बनारस, चंदौली में हंगामा कर रहे हैं. कई जगहों पर प्रदर्शनाकिरयों ने ट्रेनें फूंक दी हैं, जबकि कई जगह रेलवे स्टेशनों में तोड़फोड़ की है. कई जगह ये लोग रेल ट्रैक पर बैठकर प्रदर्शन कर रहे हैं. वाराणसी में अग्निपथ योजना के विरोध में कई युवा रेलवे ट्रैक पर ही पुशअप्‍स करते हुए दिखाई दिए. उपद्रवियों ने बिहार के समस्तीपुर में जम्मूतवी-गुवाहाटी एक्सप्रेस ट्रेन के डिब्बों में आग लगा दी है. लखीसराय में भी आगजनी की खबर है.

वहीं, संपर्क एक्सप्रेस में भी आग लगाने की सूचना है. ट्रेन दरभंगा से नई दिल्ली जा रही थी. उपद्रवियों ने पहले ट्रेन में जमकर तोड़फोड़ और लूटपाट की, फिर आग लगा दी. उत्तर प्रदेश के बलिया में पुलिस द्वारा प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज की खबर है. अग्निपथ की आग मध्य प्रदेश के इंदौर तक पहुंच गई है. लक्ष्मीबाई नगर स्टेशन पर 300 से अधिक छात्रों ने आज हंगामा बोल दिया और ट्रेनें रोक दीं. इस दौरान पथराव की भी खबर है.

गौरतलब है कि केंद्र ने देशव्यापी विरोध के बीच गुरुवार को ‘अग्निपथ’ सैन्य भर्ती योजना के लिए आयु सीमा 21 से बढ़ाकर 23 कर दी है. सरकार ने एक विज्ञप्ति में कहा कि यह निर्णय इसलिए लिया गया है क्योंकि पिछले दो वर्षों में कोई भर्ती नहीं हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here