Home Crime मंगलसूत्र से नहीं कटा था सपना का गला, पड़ोसी ने किया था...

मंगलसूत्र से नहीं कटा था सपना का गला, पड़ोसी ने किया था दुष्कर्म का प्रयास

222
0

असल न्यूज़: गांधी नगर इलाके में महिला के गले में मंगलसूत्र के फंसने से उसकी मौत नहीं हुई थी, बल्कि दुष्कर्म के प्रयास के दौरान उसका कैंची से गला रेत दिया गया था। जी हां गांधी नगर इलाके में एक जुलाई को हुई महिला की मौत की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने इस संबंध में महिला के साथ ही बिल्डिंग में रहने वाले एक अन्य किराएदार को गिरफ्तार किया है।

आरोपी की पहचान गांव हाजीपुर पटोना, मंजनपुर, कौशांबी, यूपी निवासी मान सिंह (25) के रूप में हुई है। घटना वाले दिन महिला छत पर कपड़े सुखाने के लिए गई थी। वापस लौटते समय आरोपी ने सीढ़ियों पर उसका रास्ता रोककर उसके साथ जबरदस्ती की। विरोध करने और पति से शिकायत करने की बात करने पर आरोपी ने गुस्से में कैंची से उसका गला रेत दिया। महिला सीढ़ियों से गिरी और उसके कटे हुए गले में मंगलसूत्र घुस गया। शुरुआती जांच में ऐसा ही लगा कि गिरने के दौरान मंगलसूत्र से ही उसका गला कट गया है। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि किसी धारदार हथियार से उसका गला रेता गया है। इसके बाद हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस ने केस सुलझा लिया।

शाहदरा जिला पुलिस उपायुक्त आर.सत्यसुंदरम ने बताया कि एक जुलाई दोपहर 12.38 बजे पुलिस को सूचना मिली थी कि एक महिला सीढ़ियों से गिरकर घायल हो गई है। पीड़िता सपना (22) (बदला हुआ नाम) को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। महिला के गले पर गहरा कट लगा था। उसका मंगलसूत्र भी कटे हुए गले घुसा हुआ था। शुरुआत में लगा कि गिरने की वजह से महिला के गले में मंगलसूत्र उलझा और उसका मंगलसूत्र से ही गला कट गया। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो उसने इस तथ्य को बदल दिया।

करीब 100 किराएदारों से की गई पूछताछ
तीन जुलाई को गांधी नगर थाना पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की। अब पुलिस के सामने यह सवाल था कि आखिर महिला का गला किसने और क्यों रेता। महिला के पति से पूछताछ की गई तो पता चला कि वारदात के समय वह काम पर गया हुआ था। जिस बिल्डिंग में महिला किराए पर रहती थी, उस बिल्डिंग में बड़ी संख्या में लोग किराए के कमरे लेकर रहते हैं। पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों से पड़ताल की और करीब 100 किराएदारों से पूछताछ की गई।

सुबह 10 बजे से बीयर पी रहा था हत्यारोपी

इसके अलावा जिस पर भी पुलिस को शक हुआ, उससे लंबी पूछताछ की गई। लंबी जांच के बाद पुलिस ने दूसरी मंजिल पर रहने वाले किराएदार मान सिंह से पूछताछ की तो वह टूट गया। उसने बताया कि वह करीब 12-13 साल की उम्र से शराब पी रहा है। पिछले करीब तीन सालों से वह इस बिल्डिंग में दूसरी मंजिल पर रह रहा था। वह एक फैक्टरी में कपड़े के कॉलर बनाने का काम करता है। एक जुलाई को फैक्टरी में पेंट होने के कारण वह वहां नहीं गया। फैक्टरी का काम वह घर पर ही ले आया था। सुबह करीब 9.30 बजे वह पास की दुकान से कैंची ले आया, जिसे उसने धार लगने के लिए दिया हुआ था। सुबह दस बजे बिल्डिंग में रहने वाले सभी लोग चले गए तो आरोपी ने बीयर पीना शुरू कर दिया। इस बीच 11.45 बजे सपना कपड़े सुखाने छत पर गई तो जीने पर आरोपी ने उसे रोक लिया। आरोपी ने महिला के साथ जबरदस्ती करने की कोशिश की। महिला ने विरोध कर पति को बताने की बात की तो उसने कैंची से उसका गला रेत दिया। वारदात के बाद आरोपी अपने कमरे में ही आ गया। उसने खून से सनी कैंची धोई बाद में अपने कपड़े भी धो दिए। पुलिस आरोपी की निशानदेही पर वारदात में इस्तेमाल कैंची भी बरामद करने का प्रयास कर रही है।

महिला के बेटे के बयान और कॉल की वजह से हुई गलतफहमी…
एक महिला की गला कटने से मौत हो गई और पुलिस ने इसे महज एक हादसा मान लिया। आखिर कैसे शुरुआती जांच में पुलिस को यह मामला हत्या का नहीं लगा। इस बात पर मामले की जांच कर रहे एक अधिकारी ने बताया कि क्राइम और एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची और शव का निरीक्षण किया। महिला के कटे हुए गले में मंगलसूत्र अंदर तक फंसा हुआ था। ऐसा लग रहा था कि मंगलसूत्र फंसने से गला कटा। वहीं महिला के चार साल के बेटे ने भी मां के जीने से गिरने की बात बताई। इसके बाद लोगों ने कॉल भी मंगलसूत्र से गला कटने की बात कही। बाद में जब पोस्टमार्टम हुआ तो हत्या का पता चला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here