Home Delhi सेना में नौकरी की मांग कर रहे युवाओं को पैदल मार्च करना...

सेना में नौकरी की मांग कर रहे युवाओं को पैदल मार्च करना पड़ रहा भारी

102
0

असल न्यूज़: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ देश के कई राज्यों के युवाओं द्वारा जमकर विरोध-प्रदर्शन किया गया. कई ने दिल्ली तक पैदल मार्च किया लेकिन इस कारण इन युवाओं की तबीयत खराब हो रही है और वे अस्पताल के बिस्तर पर जा पहुंचे. नागपुर के 159 युवा भी पैदल दिल्ली मार्च कर रहे हैं.

159 युवा नागपुर से दिल्ली की ओर पैदल मार्च कर रहे हैं

गौरतलब है कि 1 जून से विभिन्न सेंट्रल पैरामिलिट्री फोर्स (CAPF) में नौकरी के लिए आवेदन करने वाली 22 लड़कियों सहित 159 युवा नागपुर से दिल्ली की ओर पैदल मार्च कर रहे हैं. इन्हें उम्मीद है कि वे गृह मंत्री अमित शाह से मिलेंगे और अपनी शिकायत रखेंगे. उनमें से कुछ ने टी-शर्ट पहन रखी है जिन पर ‘हम अपना हक मांग रहे हैं’ (हम अपने अधिकारों की मांग कर रहे हैं) जैसे स्लोगन लिखे हुए हैं.

इन युवाओं का आरोप कि उन्होंने परीक्षा के सभी चरणों को पास कर लिया है, फिर भी उन्हें नौकरी नहीं दी गई है. 2018 में, लगभग 60,000 नौकरियों के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए थे और केवल 55,000 ही भरे गए थे. इन युवाओं का कहना है कि वे 5,000 बचे हुए लोगों में से हैं.

मार्च में नागपुर के संविधान स्कवायर पर किया था विरोध-प्रदर्शन

टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक इस साल मार्च में इस ग्रुप ने नागपुर के संविधान स्क्वायर पर विरोध और भूख हड़ताल की थी. प्रदर्शनकारियों के मुताबिक, “नागपुर में, केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने हमें मदद का आश्वासन दिया था. लेकिन कुछ नहीं हुआ, हमने दिल्ली (नागपुर से लगभग 1,100 किमी की दूरी पर) मार्च करने का फैसला किया. जल्द ही अन्य राज्यों के लोग भी इसमें शामिल हो गए. ”

एक महीने से ज्यादा से मार्च कर रहे हैं युवा

समूह एक महीने से अधिक समय से मार्च कर रहा है. वे एक दिन में 25-30 किलोमीटर की दूरी तय करते हैं. फिलहाल मुरैना में, वे कलेक्टर कार्यालय के पास एक पार्क में डेरा डाले हुए हैं, उनमें से एक ने तस्वीरें साझा करते हुए कहा। हर दिन के घटनाक्रम को ट्वीट किया जा रहा है जिसमें महत्वपूर्ण नेताओं को टैग किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here